ताज़ा खबर
 

भारत में कामयाबी के लिए धैर्य की जरूरत: ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट कोच ग्रीम हिक

बल्लेबाजी कोच ग्रीम हिक का मानना है कि भारत दौरे के दौरान टीम के शीर्ष बल्लेबाजों को अधिक धैर्य दिखाना होगा और हालात से जल्द सामंजस्य बैठाना होगा।

Author मेलबर्न | Updated: September 16, 2016 5:02 PM
ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजी कोच ग्रीम हिक। (रॉयटर्स फाइल फोटो)

ऑस्ट्रेलिया के नव नियुक्त बल्लेबाजी कोच ग्रीम हिक का मानना है कि अगले साल की शुरुआत में भारत दौरे के दौरान टीम के शीर्ष बल्लेबाजों को अधिक धैर्य दिखाना होगा और हालात से जल्द सामंजस्य बैठाना होगा। हिक ने ‘ईएसपीएन क्रिकइंफो’ से कहा, ‘यह सबसे पहले उनके हालात से सामंजस्य बैठाना है। कभी कभी शायद ऑस्ट्रेलियाई तरीका दबदबा बनाने का है और टेस्ट क्रिकेट में रन गति काफी बढ़ जाती है। अगर भारत में हाल में सफल टीमों को देखें तो शायद वह ऐसी जगह है जहां हमें कुछ अधिक धैर्य की जरूरत है। मत भूलिए यह क्रिकेट की सबसे कड़ी चुनौतियों में से एक है।’

वर्ष 1993 में इंग्लैंड की 0-3 की हार के दौरान भारत के खिलाफ करियर की सर्वश्रेष्ठ 173 रन की पारी खेलने वाले हिक ने कहा, ‘जो टीमें सफल रही उनमें ऐसे खिलाड़ी रहे जिन्होंने शुरुआत में ही काफी रन बनाए। शायद कुछ अच्छे सत्र काफी नहीं हों। अगर आप टिक गए हो तो खिलाड़ी को पहली पारी में बड़ा स्कोर खड़ा करना होगा और जिम्मेदारी लेनी होगी। इसके लिए शायद कुछ अधिक धैर्य की जरूत पड़े।’

हिक ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी श्रीलंका टेस्ट श्रृंखला में करारी हार के बाद बेहतर प्रदर्शन करने को तैयार है। हिक ने कहा कि यह अहम है कि खिलाड़ी सोचें कि वे उप महाद्वीप में सफल हो सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘मानसिकता महत्वपूर्ण है। आपको आत्मविश्वास की जरूरत है। शीर्ष खिलाड़ी खुद इससे निपट लेंगे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 एमएस धोनी का खुलासा: 2007 वर्ल्‍ड कप में बाहर होने पर पीछे लग गया था मीडिया, बचने के लिए थाने में बैठे थे हम सारे खिलाड़ी
2 स्पिनरों पर निर्भर होगा भारत-न्यूजीलैंड टैस्ट सीरीज का भाग्य: गौतम गंभीर
3 IND vs NZ Test: कोटला की पिच पर घास देखकर परेशान हुए कीवी
जस्‍ट नाउ
X