Former West Indian fast bowler Michael Holding siad India should have never left out Cheteshwar Pujara from the playing XI- माइकल होल्डिंग ने कप्तान विराट के टीम चयन पर उठाए सवाल, कहा- चेतेश्वर पुजारा को बाहर बिठाना बड़ी गलती - Jansatta
ताज़ा खबर
 

माइकल होल्डिंग ने कप्तान विराट के टीम चयन पर उठाए सवाल, कहा- चेतेश्वर पुजारा को बाहर बिठाना बड़ी गलती

होल्डिंग के मुताबिक विराट कोहली ने चेतेश्वर पुजारा को टीम से बाहर रखकर बड़ी गलती कर दी। पुजारा भले ही पिछले कुछ समय से आउट ऑफ फॉर्म हो, लेकिन वह एक क्लास प्लेयर हैं जिनका टीम में होना बेहद जरूरी था। पुजारा दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे, वहीं एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच में भी पुजारा फ्लॉप ही साबित रहे थे।

विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा। फोटो सोर्स- बीसीसीआई टीवी)

एजबेस्टन में इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय टीम को 31 रनों से हार का सामना करना पड़ा। चौथे दिन भारत को जीत के लिए 84 रनों की जरूरत थी और टीम के पास 5 विकेट बचे हुए थे। कप्तान विराट कोहली और दिनेश कार्तिक पिच पर मौजूद थे। शुरुआत में ही कार्तिक 20 रन बनाकर आउट हो गए और इसके बाद भारतीय टीम लगातार विकेट गंवाती गई। इस हार के बाद वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने भारतीय कप्तान के टीम चयन पर सवाल खड़े किए। होल्डिंग के मुताबिक विराट कोहली ने चेतेश्वर पुजारा को टीम से बाहर रखकर बड़ी गलती कर दी। पुजारा भले ही पिछले कुछ समय से आउट ऑफ फॉर्म हो, लेकिन वह एक क्लास प्लेयर हैं जिनका टीम में होना बेहद जरूरी था। पुजारा दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे, वहीं एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच में भी पुजारा फ्लॉप ही साबित रहे थे। पिछले मैचों में पुजारा का प्रदर्शन जरूर खराब रहा, लेकिन उन्हें फॉर्म में आने के लिए महज एक अच्छी पारी की जरूरत है।

virat kohli भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली। (फोटो सोर्स एपी)

होल्डिंग ने पुजारा की तारीफ करते हुए कहा, ”इसमें कोई शक नहीं कि पुजारा शानदार बल्लेबाज हैं। विराट कोहली अगर आउट ऑफ फॉर्म हो तो क्या टीम उन्हें बाहर कर देगी। सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण कई बार रन बनाने में नाकाम रहते थे, इसका मतलब यह नहीं कि आप उन्हें टीम से बाहर कर दें। होल्डिंग ने सवाल किया कि अगर शिखर धवन, केएल राहुल, मुरली विजय और अजिंक्य रहाणे खराब फॉर्म के बावजूद टीम में अपनी जगह बनाने में कामयाब रहते हैं तो पुजारा क्यों नहीं?

साल 1975 से 87 तक वेस्टइंडीज के लिए गेंदबाजी करने वाले होल्डिंग ने स्काईस्पोर्ट्स से बातचीत के दौरान कहा, ”भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पंड्या की तुलना कपिल देव से की जाती है। मुझे लगता है कि यह बिल्कुल गलत है। पंड्या और कपिल देव का कोई मेल नहीं है। भारतीय टीम पंड्या की जगह एक बल्लेबाज को टीम में शामिल कर सकती है। बतौर गेंदबाज पंड्या इंग्लैंड में बेअसर रहे हैं और बल्ले से भी वह रन बनाने में नाकाम ही रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App