ताज़ा खबर
 

PAK के इस दिग्गज खिलाड़ी का बयान-अकरम और इंजमाम को दे देते फांसी, तो नहीं होती मैच फिक्सिंग

कादिर ने वर्ष 2000 में मैच फिक्सिंग में फंसे दो खिलाड़ियों अताउर रहमान और सलीम मलिक की ओर इशारा करते हुए कहा कि वो दोनों तो महज बलि का बकरा थे।

Abdul Qadir, Former Pakistan Leg Spinner Abdul Qadir, Wasim Akram, Inzamam-ul-Haq, Match Fixing, Pakistan Super League, PSL Spot Fixing, Match Fixing Scandal, Cricket News, Sports Newsपाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर अब्दुल कादिर ने वसीम अकरम और इंजमाम-उल-हक पर मैच फिक्सिंग में संलिप्त होने का आरोप लगाया है।(File Photo)

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज लेग स्पिनर अब्दुल कादिर ने पाकिस्तान सुपर लीग में हुए स्पॉट फिक्सिंग के संबंध में एक सनसनीखेज बयान दे डाला। उन्होंने कहा कि यदि पहले ही मैच फिक्सिंग में लिप्त खिलाड़ियों को कड़ी सजा दी गई होती तो आज यह बीमारी इतनी बिकराल रूप नहीं धारण कर पाती। उन्होंने अपने बयान में कहा, ‘वसीम अकरम, इंजमाम-उल-हक और मुश्‍ताक अहमद सहित अन्‍य कई खिलाड़ी मैच फिक्सिंग में लिप्‍त थे और अगर उन्‍हें ‘फांसी’ दे दी जाती तो पाकिस्‍तान में स्‍पॉट फिक्सिंग का खतरा होता ही नहीं होता।’ कादिर के इस बयान के बाद क्रिकेट जगत में हलचल मच गई है।

पाकिस्तान के इस पूर्व गेंदबाज़ने एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में कहा कि वसीम अकरम, वकार यूनिस, इंजमाम उल हक और मुश्ताक अहमद जैसे खिलाड़ी अपने समय में मैच फिक्सिंग करते थे। कादिर ने कहा कि इन्हीं खिलाड़ियों की वजह से 90 के दशक के अंतिम सालों में मैच फिक्सिंग ने पाक क्रिकेट में दस्तक दी। कादिर ने कहा कि अगर ठीक समय पर इन खिलाड़ियों को फांसी पर लटका दिया गया होता, तो मैच फिक्सिंग वहीं रुक जाती। कादिर ने वर्ष 2000 में मैच फिक्सिंग में फंसे दो खिलाड़ियों अताउर रहमान और सलीम मलिक की ओर इशारा करते हुए कहा कि वो दोनों तो महज बलि का बकरा थे।

उन्‍होंने ने यह भी कहा कि आखिर क्‍यों मैच फिक्सिंग पर जस्टिस मलिक मुहम्‍मद कयूम की रिपोर्ट को लागू नहीं किया गया? पाकिस्तानी क्रिकेट इन दिनों मैच फिक्सिंग के साये में है। पाकिस्तान सुपर लीग के दौरान सामने आया स्पॉट फिक्सिंग विवाद बढ़ता जा रहा है। अब तक पांच खिलाड़ियों को संदेह के घेरे में निलंबित किया जा चुका है। कादिर के बयान के बाद पाकिस्तान के कई पूर्व क्रिकेटरों ने भी प्रतिक्रिया दी है। शाहिद अफरीदी और मोहम्मद हफीज ने पीसीबी से मांग की है कि इस मामले की गहरी जांच होनी चाहिए और दोषी खिलाड़ियों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। इतना ही नहीं, दोनों का कहना है कि दोषियों को कड़ी सजा देकर क्रिकेट से बाहर कर देना चाहिए। पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने पिछले दिनों ही करीब सात फुट लंबे तेज गेंदबाज मोहम्‍मद इरफान को पाकिस्‍तान क्रिकेट लीग (पीएसएल) से जुड़े स्‍पॉट फिक्सिंग मामले में निलंबित (सस्‍पेंड) किया था। मोहम्‍मद इरफान से पहले शारजील खान, खालिद लतीफ और नासिर जमशेद को भी यह सजा दी गई थी।

Next Stories
1 वीडियो: जब जडेजा ने स्टीव स्मिथ को चौंकाया, क्रिकेट एक्सपर्ट ने कहा-फेल हो गई कंगारू कप्तान की बुद्धि
2 वीडियो: मैथ्यू वेड ने उतारी ‘माही’ की नकल और हो गए विफल, फैंस बाले-धोनी होना इतना भी आसान नहीं
3 वीडियो: विराट कोहली ने कंगारुओं के साथ किया ‘जैसे को तैसा’ वाला व्यवहार, निकाल ली अपनी भड़ास
ये पढ़ा क्या?
X