ताज़ा खबर
 

पूर्व दिग्गज क्रिकेटर ने कम की विराट कोहली की परेशानी, बताया इंग्लैंड के गेंदबाजों से निपटने का गुरु मंत्र

मैकग्रा ने कहा, ‘‘एंडरसन सबसे अहम खिलाड़ी होगा। यह इस पर निर्भर करता है। भारतीय बल्लेबाज इंग्लैंड की परिस्थितियों में उनकी स्विंग और तेज गेंदबाजी का कैसे सामना करते हैं। अगर वे एंडरसन पर हावी होकर खेलते हैं तो इससे उनके लिए बड़ा अंतर पैदा होगा।

विराट कोहली। (फोटो सोर्स- RETURES)

ऑस्ट्रेलिया के अपने जमाने के दिग्गज तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा का मानना है कि अगर भारत को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने की संभावना मजबूत करनी है तो विराट कोहली और उनके साथी बल्लेबाजों को जेम्स एंडरसन की स्विंग और सीम पर हावी होना होगा। मैकग्रा ने कहा, ‘‘एंडरसन सबसे अहम खिलाड़ी होगा। यह इस पर निर्भर करता है। भारतीय बल्लेबाज इंग्लैंड की परिस्थितियों में उनकी स्विंग और तेज गेंदबाजी का कैसे सामना करते हैं। अगर वे एंडरसन पर हावी होकर खेलते हैं तो इससे उनके लिए बड़ा अंतर पैदा होगा। मेरा मानना है कि उनके लिये वह निश्चित तौर पर सबसे महत्वपूर्ण होगा।’’एमआरएफ पेस फाउंडेशन में कोचिंग निदेशक मैकग्रा ने कहा कि भले ही भारतीय गेंदबाजों ने हाल में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन बल्लेबाजी तब भी उनका मजबूत पक्ष है। उन्होंने कहा , ‘‘ यह दिलचस्प होने जा रहा है। भारत ने इंग्लैंड में वास्तव में अच्छी शुरुआत की , बेशक यह वनडे और टी 20 में थी। बल्लेबाजी हमेशा उनका मजबूत पक्ष रहा है। अभी जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार की चोट के बारे में सुना। इसलिए यह उनकी गेंदबाजी लाइन अप को देखना दिलचस्प होगा कि कौन मुख्य जिम्मेदारी उठाता है। ’’

Glenn Mcgrath, Josh Hazlewood, Australian Pacer Josh Hazlewood, Josh Hazlewood can breaks Mcgrath record, Josh Hazlewood hundred Test Wicket, Cricket News, Glenn Mcgrath test Wickets, Total Test Wickets of Glenn Mcgrath, Australian Cricket, Cricket Australia ग्लेन मैक्ग्रा।(Photo: CA Twitter Handle)

मैकग्रा ने कहा, ‘‘हाल के दिनों में उन्होंने वास्तव में अच्छी गेंदबाजी की। चोट लगती रही हैं। इससे थोड़ा काम मुश्किल हो जाएगा लेकिन उनका मजबूत पक्ष बल्लेबाजी है। ’’ उन्होंने कहा कि भारत के लिये स्पिनरों ने अच्छा प्रदर्शन किया है और वे इंग्लैंड में भी अपनी भूमिका निभाएंगे लेकिन तेज गेंदबाज महत्वपूर्ण होंगे। मैकग्रा ने कहा , ‘‘ स्पिनर भारत के लिए अच्छा काम कर रहे हैं। शेन वार्न को भी वहां गेंदबाजी करना पसंद था। वह हमेशा कहता था कि अगर पिच से सीमर को मदद मिलेगी तो टर्न भी मिलेगा।

इंग्लैंड की परिस्थितियों में गेंद से वार्न को सफलता मिली है। भारत को अगर सीरीज जीतनी है तो उसके स्पिनरों को बल्लेबाजों पर हावी होना होगा। ’’उन्होंने कहा , ‘‘ भुवी और बुमराह के बाहर होने से थोड़ा खालीपन पैदा हो गया है। पहला टेस्ट काफी महत्वपूर्ण बनने जा रहा है। इशांत शर्मा काफी अनुभवी है और जब आप जानते हो कि विकेट कैसे लेने हैं तो इससे बड़ा अंतर पैदा होता है। वह पहले जैसी तेजी से गेंदबाजी नहीं कर रहा है लेकिन यह देखना होगा कि उसमें पहले की तरह विकेट लेने की क्षमता है। (भाषा इनपुट के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App