ताज़ा खबर
 

रन लेते समय हवा में उछल गए केएल राहुल के जूते, जानिए क्‍या होता अगर स्‍टंप्‍स से जा लगते

राहुल जब 12 रन के निजी स्कोर पर बल्लेबाजी कर रहे थे तब खुद की गलती से आउट होने बच गए!

स्विंग गेंदबाजी के सामने भारतीय बल्लेबाजों की कमजोरी एक बार फिर उजागर हो गई जब पांचवें और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन भारत के छह विकेट सिर्फ 174 रन पर उखड़ गए। (BCCI PHOTO AND SCREENSHOT)

इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच की पहली पारी में भारत के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने 53 गेंदों में 37 रन बनाए। उन्हें इंग्लिश गेंदबाज सैम करन ने आउट किया। हालांकि राहुल जब 12 रन के निजी स्कोर पर बल्लेबाजी कर रहे थे तब खुद की गलती से आउट होने बच गए! दरअसल हुआ यह है कि बेन स्टोक्स ने ओवर की दूसरी गेंद डाली तब केएल राहुल ने शॉट खेला और रन लेने के दौड़े। रन लेते हुए राहुल जब क्रीज के बीच में पहुंचे तब उनके पैर से जूता निकलकर हवा में उछलकर स्टंप के पास तक जा पहुंचा। बाद में उन्होंने किसी तरह अपना रन पूरा किया। इसपर गेंदबाजी करा रहे स्टोक्स ने मानवता दिखाते हुए उनका जूता उठाया और केएल राहुल को थमा दिया। भारतीय बल्लेबाज की इस गलती के लिए अंपायरों ने भी उन्हें चेतावनी नहीं दी, क्योंकि मैदान पर जो कुछ हुआ वो बल्लेबाज की गलती से नहीं हुआ।

HOT DEALS
  • Gionee X1 16GB Gold
    ₹ 8990 MRP ₹ 10349 -13%
    ₹1349 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

चलिए आपको बताते हैं कि अगर केएल राहुल का जूता क्रीज की बजाय सीधा स्टंप पर जा लगता तो क्या होता? साल 2007 में इंग्लिश खिलाड़ी केविन पीटरसन को भी अपनी गलती की वजह से पवेलियन वापस लौटना पड़ा था। तब वेस्टइंडीज के खिलाफ खेल रहे पीटरसन का हेलमेट स्टंप पा जा गिरा। इससे उन्हें आउट करार दिया गया है। हालांकि केएल राहुल के केस में गलती उनकी नहीं थी। नियम 35.1.1.2 के मुताबिक बल्लेबाज को हिट विकेट आउट किया जाएगा अगर वह शॉट खेलने के बाद तुरंत रन लेने के लिए दौड़ता है। मगर उसे तब आउट नहीं दिया जा सकता है जब वह रन लेने में जुटा है। राहुल के केस में ऐसा ही मामला बनता है।

बता दें स्विंग गेंदबाजी के सामने भारतीय बल्लेबाजों की कमजोरी एक बार फिर उजागर हो गई जब पांचवें और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन भारत के छह विकेट सिर्फ 174 रन पर उखड़ गए। इससे पहले इंग्लैंड ने अपने पुछल्ले बल्लेबाजों के संयमित प्रदर्शन के दम पर पहली पारी में 332 रन बनाए। भारतीय टीम अभी भी उसके पहली पारी के स्कोर से 158 रन पीछे है और सिर्फ चार विकेट बाकी है। अपना जन्मदिन मना रहे जोस बटलर के 89 रन और स्टुअर्ट ब्राड (38) के साथ नौवे विकेट के लिये 98 रन की साझेदारी की मदद से इंग्लैंड ने पहली पारी में 332 रन बनाए। (एजेंसी इनपुट सहित)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App