ताज़ा खबर
 

विराट कोहली की मानवता ने जीता माइकल क्‍लार्क का दिल, कहा-मैं उनका बहुत सम्‍मान करता हूं

कोलकाता में भारत के पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने माइकल क्लार्क की आत्मकथा 'माइ स्टोरी' का विमोचन किया। इस मौके पर 'मंकीगेट' का भी जिक्र हुआ।

Author कोलकाता | Updated: March 16, 2017 3:18 PM
आॅस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने कहा है कि उनके दिल में विराट कोहली के लिए बहुत सम्मान है।(Photo: CA)

आॅस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उनके दिल में भारतीय कप्तान विराट कोहली के प्रति बहुत ही सम्मान है। माइकल क्लार्क ने बताया कि दिसंबर 2014 के आॅस्ट्रेलियाई दौरे पर विराट कोहली ने रवि शास्त्री और रोहित शर्मा के साथ फिलिप ह्यूज के फ्यूनरल सेरेमनी में शिरकत किया था और उसके बाद से ही विराट के लिए मेरे दिल में बहुत सम्मान है। क्लार्क ने उस लम्हें को याद करते हुए कहा कि वो विराट कोहली के इस कदम से उनके कायल हो गए थे। गौरतलब है कि डोमेस्टिक क्रिकेट में सिर में बाउंसर लगने से फिलिप ह्यूज की मौत हो गई थी। उस समय भारतीय क्रिकेट टीम चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलने के लिए आॅस्ट्रेलिया में मौजूद थी।

अपनी आत्मकथा ‘माइ स्टोरी’ के लॉन्चिंग के मौके पर क्लार्क ने कहा, ‘विराट कोहली ने जिस प्रकार से मानवता का परिचय दिया और कुछ अन्य भारतीय खिलाड़ियों के साथ फिल ह्यूज की अंतिम यात्रा में शामिल हुए वह मेरे लिए बहुत भावुक करने वाला वाकया था। उसके बाद से मेरे दिल में विराट कोहली के लिए असीम सम्मान है। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की आक्रमकता की तारीफ की। क्लार्क ने कहा कि विराट कोहली जीतने के लिए हारने का भी जोखिम उठाते हैं। मेरा मानना है कि यह अद्भुत है। क्लार्क ने कोहली की कप्तानी की भी तारीफ की। क्लार्क ने कहा कि कोहली की अपनी शैली है. उसके पास खेल के लिए प्रेम, जुनून और इच्छा है। वह हर कीमत पर जीतना चाहता है।

दिसंबर 2014 में सिर में बाउंसर लगने से आॅस्ट्रेलियाई बल्लेबाज फिलिप ह्यूज की मौत हो गई थी। उनकी अंतिम यात्रा में विराट कोहली भी शामिल हुए थे।(File Photo)

क्लार्क ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर फिल ह्यूज की मौत के बाद एकजुटता दिखाने के लिए कोहली की प्रशंसा की, जो क्लार्क के अच्छे दोस्त थे। कोलकाता में भारत के पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने माइकल क्लार्क की आत्मकथा ‘माइ स्टोरी’ का विमोचन किया। इस मौके पर ‘मंकीगेट’ का भी जिक्र हुआ। सौरव गांगुली ने कहा कि मैं आपको गारंटी देता हूं कि किताब में ‘मंकीगेट’ अध्याय की सही तस्वीर नहीं होगी। सिर्फ ‘सरदारजी’ को पता होगा कि हरभजन सिंह क्या कहने की कोशिश कर रहे थे। आप इसे ‘मंगीगेट’, ‘हनुमानगेट’ या कोई भी गेट कह सकते हैं। वहीं क्लार्क ने कहा कि उनका मानना है कि 2007-08 का मंकीगेट प्रकरण काफी लंबा खींच गया था।

फिलिप ह्यूज की 2014 दिसंबर में एक डोमेस्टिक मैच में सिर में बाउंसर लगने से मौत हो गई थी। उनकी अंतिम यात्रा में शामिल आॅस्ट्रेलिया के तत्कालीन कप्तान माइकल क्लार्क।(File Photo)

क्रिकेट जगत की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें…

क्लार्क ने एंड्रयू साइमंड्स और हरभजन सिंह से जुड़े मंकीगेट प्रकरण और वर्तमान विवाद को लेकर बात करते हुए कहा, मैंने उस समय एससीजी की स्थिति को देखा था। मैं एंड्रयू साइमंड्स का काफी करीबी था।मैंने उससे कहा कि क्या उसके खिलाफ नस्ली टिप्पणी की गई। यह केवल एंड्रयू के खिलाफ नस्ली टिप्पणी से जुड़ा मसला नहीं था। उसे उसी समय समाप्त किया जाना चाहिए था और खेल भावना से खेल आगे जारी रखना चाहिए था। सिडनी टेस्ट में भारत की 122 रन की हार के बाद हरभजन पर नस्ली टिप्पणी का आरोप लगाया गया। पहले उन पर तीन मैच का प्रतिबंध लगाया गया जिसे बाद में कम किया गया।

विराट कोहली के बारे में 10 ऐसी दिलचस्प बातें जो आप नहीं जानते होंगे

वीडियो: माइकल क्लार्क की आत्मकथा 'माइ स्टोरी' की लॉन्चिंग के मौके पर सौरव गांगुली ने क्या कहा?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 वीडियो: रिद्धिमान साहा के बाद अब चेतेश्वर पुजारा बने ‘सुपरमैन’, छलांग लगाकर पकड़ा दर्शनीय कैच
2 वीडियो: एमएस धोनी ने छक्के से दिलायी झारखंड को जीत, दर्शकों ने लगाया नारा-जग्गी वापस जाओ माही को बुलाओ
3 शशांक मनोहर ने आईसीसी अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, ‘निजी कारणों’ को बताया इस्तीफे की वजह
जस्‍ट नाउ
X