ताज़ा खबर
 

धोनी के करीबी सत्य प्रकाश का खुलासा, इस वजह से माही को आतंकवादी कहकर पुकारते थे दोस्त

Dhoni Bihar teammate Satya Prakash: ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि वर्ल्ड कप के बाद धोनी क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लेंगे, लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ की मानें तो वह अगले साल एक बार फिर पीली जर्सी में चेन्नई के लिए खेलते नजर आएंगे।

भारतीय कप्तान विराट कोहली के साथ महेंद्र सिंह धोनी। (फोटो सोर्स- पीटीआई)

Dhoni Bihar teammate Satya Prakash: पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का अहम हिस्सा माने जा रहे हैं। मौजूदा समय में धोनी जबरदस्त फॉर्म में हैं। धोनी के लिए आईपीएल का यह सीजन भी शानदार गुजरा। धोनी के करीबी दोस्त सत्य प्रकाश ने सपोर्ट स्टार को दिए एक इंटरव्यू में धोनी से जुड़ी कुछ पुरानी बातों का जिक्र किया। सत्य प्रकाश ने कहा, ‘हम सभी दोस्त मिलकर धोनी को आतंकवादी कहकर पुकारते थे। धोनी अक्सर 20 गेंदों में 40-50 रनों की पारी खेलता और इस वजह से सब उसे आतंकवादी कहते थे। हालांकि, भारतीय टीम में चयन होने के बाद उसने अपने खेलने का अंदाज बदला और ज्यादा से ज्यादा फोकस बल्लेबाजी में सुधार लाने पर किया।’ धोनी की बायोपिक ‘एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’ में भी सत्य प्रकाश का अहम रोल रहा। खड़गपुर स्टेशन पर धोनी को रेलवे में नौकरी दिलाने में सत्य प्रकाश की अहम भूमिका रही थी। धोनी और सत्य प्रकाश साल 2000 में बिहार के लिए एक साथ खेला करते थे।

सत्य प्रकाश ने आगे कहा, ‘धोनी को पहले कभी शायद ही टीम की कप्तानी करने का मौका मिलता था, लेकिन भारतीय टीम में जैसे ही उन्हें यह अवसर मिला उन्होंने बिना देर किए इसे दोनों हाथों से स्वीकार किया। धोनी लोगों के सामने ज्यादातर हिंदी में अपनी बात रखते थे, लेकिन अब वह हमेशा अंग्रेजी में बोलते हैं। हम दोस्तों को उनकी काबिलिय का अंदाजा नहीं था।’ बता दें कि सत्य प्रकाश मौजूदा समय में खड़गपुर प्रीमियर लीग (KPL) में खेल रहे हैं।

धोनी को लेकर चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ काशी विश्वनाथन ने कहा कि धोनी अगले साल सीएसके की जर्सी में वापस आ जाएंगे। ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि वर्ल्ड कप के बाद धोनी क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लेंगे, लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ की मानें तो वह अगले साल एक बार फिर पीली जर्सी में चेन्नई के लिए खेलते नजर आएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App