ताज़ा खबर
 
U.P. Yoddha
36VS36
Bengaluru Bulls

दिल्ली व हिमाचल विजय हजारे ट्राफी के सेमीफाइनल में

दिल्ली और हिमाचल प्रदेश की टीमें विजय हजारे क्रिकेट ट्राफी के अंतिम चार में पहुंच गर्इं हैं। दिल्ली ने बुधवार को खेले गए क्वार्टर फाइनल में झारखंड को हराया तो हिमाचल प्रदेश ने पंजाब की चुनौती तोड़ कर सेमीफाइनल में जगह बनाई..

Author बंगलुरु / अलूर | Updated: December 23, 2015 11:50 PM
दिल्ली के खिलाफ विजय हजारे ट्राफी में बुधवार को चौका उड़ाते महेंद्र सिंह धोनी।

दिल्ली और हिमाचल प्रदेश की टीमें विजय हजारे क्रिकेट ट्राफी के अंतिम चार में पहुंच गर्इं हैं। दिल्ली ने बुधवार को खेले गए क्वार्टर फाइनल में झारखंड को हराया तो हिमाचल प्रदेश ने पंजाब की चुनौती तोड़ कर सेमीफाइनल में जगह बनाई। बंगलुरु में खेले गए मैच में भारत के वनडे और टी20 कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के 70 रनों,की नाटआउट पारी भी झारखंड को पराजय से नहीं बना सकी। दिल्ली ने झारखंड को 99 रनों से हराया।

पहले बल्लेबाजी के लिए भेजी गई दिल्ली टीम ने 50 ओवर में 225 रन बनाए। नीतिश राणा ने सर्वाधिक 44 रन का योगदान दिया जबकि पवन नेगी 38 रन बनाकर नाटआउट रहे। कप्तान गौतम गंभीर 20 गेंद में 20 रन बनाकर रन आउट हो गए। दिल्ली की शुरुआत धीमी रही। ओपनर शिखर धवन और ऋषभ पंत ने संभल कर बल्लेबाजी की। लेकिन इससे रनों की रफ्तार धीमी रही। दोनों ने पहले विकेट के लिए पचास रन की साझेदारी की। विजय हजारे ट्राफी में झारखंड के खिलाफ पहली बार किसी टीम ने पहले विकेट के लिए पचास रनो जोड़े थे। लेकिन अंकित डबास ने पहले पंत फिर धवन को आउट कर टीम की मैच में वापसी कराई।

झारखंड के लिए राहुल शुक्ला ने दस ओवर में 60 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि वरुण आरोन और अंकित डबास को दो-दो विकेट मिले। जवाब में झारखंड की टीम 38 ओवर में 126 रन पर आउट हो गई। धोनी 108 गेंद में पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 70 रन बनाकर नाबाद रहे लेकिन उन्हें दूसरे छोर से सहयोग नहीं मिल सका। झारखंड के आठ बल्लेबाज तो दोहरे अंक तक भी नहीं पहुंच पाए।

टीम की शुरुआत ही बेहद खराब रही और छठे ओवर में नौ रन पर उसके चार विकेट गिर चुके थे। लगातार अच्छा खेल रहे सलामी बल्लेबाज ईशांक जग्गी एक और सौरभ तिवारी छह रन बनाकर आउट हुए। धोनी के अलावा दोहरे अंक में पहुंचने वाले बल्लेबाज कुशाल सिंह (11) और डबास (16) रहे। दिल्ली के लिए सुबोध भाटी ने चार, नवदीप सैनी ने तीन और ईशांत शर्मा ने दो विकेट चटकाए।

उधर अलूर में खेले गए पहले क्वार्टर फाइनल में रोबिन बिष्ट के नाटआउट शतक और रिषि धवन के हरफनमौला प्रदर्शन की मदद से हिमाचल प्रदेश ने बेहद रोमांचक मुकाबले में चार गेंद बाकी रहते पंजाब को पांच विकेट से हराया। हिमाचल के कप्तान बिपुल शर्मा ने टास जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला किया। पंजाब ने 50 ओवरों में आठ विकेट पर 263 रन बनाए जिसमें मनदीप सिंह का शतक शामिल है। जवाब में हिमाचल ने 49.2 ओवर में जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया।

बिष्ट ने 135 गेंद में नौ चौकों की मदद से 109 रन बना कर नाटआउट रहे जबकि आस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय एक दिवसीय टीम में जगह बनाने वाले रिषि धवन ने 51 गेंद में चार चौकों के साथ 41 रन बनाए। निखिल गंगटा ने 39 और पारस डोगरा ने 32 रन बनाए। पंजाब के लिए सिद्धार्थ कौल ने तीन विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारत की टी20 टीम में वापसी करने वाले युवराज सिंह न तो बल्लेबाजी में चल सके और न ही गेंदबाजी में। वे 16 गेंद में पांच रन बनाकर आउट हुए और गेंदबाजी में पांच ओवर में उन्होंने 29 रन दे डाले और कोई विकेट नहीं मिली। पंजाब के लिए मनदीप सिंह ने 145 गेंद में नौ चौकों और एक छक्के के साथ 119 रन बनाए। हिमाचल के लिए धवन ने गेंदबाजी के भी जौहर दिखाते हुए दस ओवर में 60 रन देकर तीन विकेट लिए थे जबकि पंकज जायसवाल को भी तीन विकेट मिले।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories