ताज़ा खबर
 

AUS vs SA: डेविड वार्नर और क्विंटन डि कॉक के बीच लड़ाई का नया फुटेज सामने आया, देखें वीडियो

ऑस्ट्रेलियाई उप कप्तान वॉर्नर और दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डि कॉक रविवार को टी के दौरान ड्रेसिंग रूम के करीब आपस में भिड़ गए थे, जो कि सीसीटीवी कैमरे में आ गया था। इसका एक नया वीडियो इन दिनों तेजी से वायरल हो रहा है, इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह दोनों खिलाड़ी एक-दूसरे को धक्का दे रहे हैं और बचाव करने के लिए टीम के दूसरे खिलाड़ियों को बीच में आना पड़ रहा है।

डी कॉक से झगड़ते डेविड वॉर्नर। (Photo Courtesy: Twitter)

डरबन में खेले गए पहले टेस्‍ट मैच के दौरान डेविड वार्नर और क्विंटन डि कॉक के बीच लड़ाई का एक नया वीडियो सामने आया है। ऑस्‍ट्रेलियाई टीम दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर टेस्ट सीरीज खेलने पहुंची हुई है, लेकिन सीरीज का आगाज दोनों ही टीमों के लिए खराब रहा। ऑस्ट्रेलिया भले ही पहला मैच जीतने में कामयाब रही हो, लेकिन सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर की हरकत ने एक बार फिर टीम को शर्मसार करने का काम किया है। बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई उप कप्तान वॉर्नर और दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डि कॉक रविवार को टी के दौरान ड्रेसिंग रूम के करीब आपस में भिड़ गए थे, जो कि सीसीटीवी कैमरे में आ गया था। इसका एक नया वीडियो इन दिनों तेजी से वायरल हो रहा है, इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह दोनों खिलाड़ी एक-दूसरे को धक्का दे रहे हैं और बचाव करने के लिए टीम के दूसरे खिलाड़ियों को बीच में आना पड़ रहा है। वार्नर की इस हरकत के बाद आईसीसी ने कहा, ‘इसके साथ ही वॉर्नर के अनुशासनात्मक रिकॉर्ड में 3 ‘डिमैरिट पॉइंट’ भी जोड़ दिए गए हैं। इसके साथ ही उनकी मैच फीस का 75 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया है।

क्विंटन डी कॉक अपनी बहन दालियान डी कॉक के साथ और डेविड वॉर्नर (फोटो सोर्स- ट्विटर/@DayDekock/PTI फाइल फोटो)

इससे हालांकि उनके दूसरे टेस्ट मैच में खेलने पर असर नहीं पड़ेगा, जो पोर्ट एलिजाबेथ में 9 मार्च से खेला जाएगा, क्योंकि वॉर्नर का सितंबर 2016 में संशोधित संहिता के लागू होने के बाद यह पहला अपराध है। लेवल दो का उल्लंघन करने पर खिलाड़ी की 50 से 100 प्रतिशत तक मैच फीस काट दी जाती है तो उसे दो निलंबन अंक मिलते हैं जो 5 या 6 ‘डिमैरिट पॉइंट’ के बराबर होते हैं।

बयान के अनुसार, ‘वॉर्नर ने अपना अपराध माना है और उन्होंने आईसीसी मैच रेफरी जैफ क्रो के फैसले को भी स्वीकार कर लिया है और इसलिए इस मामले में औपचारिक सुनवाई की जरूरत नहीं है।’ वॉर्नर पर यह आरोप मैदानी अंपायर कुमार धर्मसेना और सुंदरम रवि, तीसरे अंपायर क्रिस गाफनी और चौथे अंपायर अल्लाउद्दीन पालेकर ने लगाए थे। वॉर्नर के साथ डि कॉक की भी इस मामले में रिपोर्ट की गई है, लेकिन उन्होंने अब तक लेवल एक आरोप का जवाब नहीं दिया है, जो कि ‘अपने आचरण से खेल को बदनाम’ करने से जुड़ा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App