ताज़ा खबर
 

सालभर से बाहर चल रहे इस खिलाड़ी की रवि शास्त्री ने की जमकर तारीफ, बोले- बता दिया क्या होता है अनुभव

शास्त्री ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, 'रैना काफी अनुभवी हैं। उन्होंने दिखाया कि अनुभव क्या कर सकता है। मुझे रैना में सबसे अच्छी बात यह लगी कि वह बेखौफ हैं।' उन्होंने आगे कहा, 'अफ्रीका के खिलाफ मुझे रैना का प्रदर्शन इसलिए भी दमदार लगा क्योंकि आमतौर पर जो खिलाड़ी लंबे समय बाद टीम में वापसी करता है वह टीम में अपनी जगह पक्की करने की कोशिश करता है।'

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री।

करीब एक साल बाद भारतीय टीम में वापसी करने वाले सुरेश रैना पर भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने प्रतिक्रिया दी है। शास्त्री ने पिछले दिनों दक्षिण अफ्रीक के खिलाफ टी-20 में 27 गेंदों में 43 बनाने पर भी रैना की जमकर तारीख की। शास्त्री ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, ‘रैना काफी अनुभवी हैं। उन्होंने दिखाया कि अनुभव क्या कर सकता है। मुझे रैना में सबसे अच्छी बात यह लगी कि वह बेखौफ हैं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘अफ्रीका के खिलाफ मुझे रैना का प्रदर्शन इसलिए भी दमदार लगा क्योंकि आमतौर पर जो खिलाड़ी लंबे समय बाद टीम में वापसी करता है वह टीम में अपनी जगह पक्की करने की कोशिश करता है, लेकिन इससे आप पर दबाव बढ़ सकता है। मगर एक साल बाद खेल रहे रैना ने ऐसी बल्लेबाजी की जैसे वो टीम से बाहर थे ही नहीं। उन्हें ऐसा खेलते देखर काफी अच्छा लगा।’ रवि शास्त्री ने इस दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या को लेकर भी बात की। उन्होंने कहा कि हार्दिक दक्षिण अफ्रीका खिलाफ उम्मीद के अनुसार अपनी प्रतिभा नहीं दिखा पाए। उन्होंने आगे कहा कि पांड्या अपनी गलितयों से सीखेंगे। हालांकि उनमें प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। भारतीय कोच ने अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में पांड्या के उस कैच की जमकर तारीफ की जिसमें उन्होंने हाशिम अमला का शानदार कैच लपका था।

बता दें कि वापसी करने वाले बल्लेबाज सुरेश रैना ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अंतिम टी-20 मैच में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की थी। रैना पहले भी दो मैचों में बल्लेबाजी के दौरान अच्छी लय में नजर आ रहे थे, लेकिन वो अपनी पारी को बड़े स्कोर तक पहुंचाने में नाकाम रहे थे। तीसरे टी-20 मैच में भले ही वह अर्धशतक लगाने से चूक गए हो, लेकिन उन्होंने टीम को एक ठोस शुरुआत देने का काम बखूबी किया। मैच में रोहित शर्मा के जल्दी आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए रैना ने जूनियर डाला के पहले ही गेंद पर छक्का जड़ साफ कर दिया कि वो आक्रमक मानसिकता से साथ बल्लेबाजी करने उतरे हैं।  रैना विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए शिखर धवन के साथ 65 रनों की साझेदारी की थी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App