ताज़ा खबर
 

Covid-19: खतरे में टी20 वर्ल्ड कप का भाग्य, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का बड़ा बयान

राबर्ट्स ने कहा, ‘‘हम सभी आशान्वित रहे हैं कि अक्टूबर-नवंबर में इसका आयोजन किया जा सकता है लेकिन आपको यह समझना होगा कि ऐसी संभावना से जोखिम भी जुड़े हैं। ’’ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने इस प्रतियोगिता पर फैसला दस जून तक टाल दिया।

Author Updated: May 29, 2020 3:50 PM
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने इस प्रतियोगिता पर फैसला दस जून तक टाल दिया।

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने शुक्रवार को स्वीकार किया कि कोविड-19 महामारी के कारण वैश्विक यात्रा प्रतिबंधों के कारण आस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप का भाग्य अनिश्चित बना हुआ है जिससे उनकी संस्था को राजस्व का काफी नुकसान हो सकता है। क्रिकेट आस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी केविन राबर्ट्स ने माना कि इस प्रतियोगिता के आयोजन के साथ जोखिम भी जुड़े हैं।

राबर्ट्स ने कहा, ‘‘हम सभी आशान्वित रहे हैं कि अक्टूबर-नवंबर में इसका आयोजन किया जा सकता है लेकिन आपको यह समझना होगा कि ऐसी संभावना से जोखिम भी जुड़े हैं। ’’ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने इस प्रतियोगिता पर फैसला दस जून तक टाल दिया। उसने कहा कि उसे आपात योजनाओं पर काम करने के लिये कुछ और समय चाहिए। राबर्ट्स ने कहा कि क्रिकेट आस्ट्रेलिया को इससे आठ करोड़ आस्ट्रेलियाई डालर का नुकसान हो सकता है।

यहां तक कि अगर टूर्नामेंट होता भी है तो इसे खाली स्टेडियमों में आयोजित किये जाने की संभावना है। इससे क्रिकेट आस्ट्रेलिया को लगभग पांच करोड़ आस्ट्रेलियाई डालर का राजस्व मिलता है। टी20 विश्व कप पर सवालिया निशान लगा हुआ है जिससे क्रिकेट आस्ट्रेलिया को लगभग दो करोड़ आस्ट्रेलियाई डालर का नुकसान हो सकता है। ’’

राबर्ट्स ने कहा, ‘‘इसके अलावा हमें इस सत्र में मैचों के आयोजन के लिये जैव सुरक्षा उपाय अपनाने पड़ेंगे जिसमें एक करोड़ आस्ट्रेलियाई डालर की लागत आएगी। ’’ क्रिकेट आस्ट्रेलिया के प्रमुख हालांकि भारत के खिलाफ तीन दिसंबर से ब्रिस्बेन में शुरू होने वाले चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला के प्रति अधिक आशान्वित हैं।

पूर्व कार्यक्रम के अनुसार भारत के खिलाफ श्रृंखला चार स्थानों ब्रिस्बेन, एडिलेड, सिडनी और मेलबर्न में खेली जाएगी लेकिन राबर्टस ने कहा कि इसक कार्यक्रम में बदलाव किया जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘वर्तमान कार्यक्रम यह मानकर तैयार किया गया कि उस समय प्रांतीय सीमाएं यात्रा के लिये खुली रहेंगी। यह उस समय की परिस्थितियों पर निर्भर करता है और हो सकता है कि हमें इनका आयोजन एक या दो स्थानों पर ही करना पड़े। अभी हम इस बारे में कुछ नहीं जानते। ’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘मजबूरी में लिया था बल्लेबाजी चुनने का फैसला,’ श्रीलंकाई दिग्गज ने 2011 वर्ल्ड कप फाइनल की प्लेइंग इलेवन पर किया खुलासा