ताज़ा खबर
 

तो इस वजह से अनुभवी पार्थिव पटेल की जगह युवा ऋषभ पंत को मिला भारतीय टेस्ट टीम में मौका

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा है कि ऋषभ पंत टेस्ट टीम में चयन के हकदार हैं क्योंकि उन्होंने अपने आप को साबित किया है। इसके साथ ही इस समय भारतीय टीम के लिए एक दूसरे विकेटकीपर-बल्लेबाज को तैयार किया जाना भी जरूरी था जो युवा हो।

ऋषभ पंत। (फोटो सोर्स- (एक्सप्रेस अर्काइव))

भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में दो विकेटकीपर के साथ गई है। रिद्धिमान साहा के चोटिल होने के बाद पार्थिव पटेल को कई दफा भारतीय टीम की ओर से टेस्ट मैच में खेलने का मौका मिला है। हालांकि, इस बार टीम ने युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत पर भरोसा जताया। ऋषभ पंत को टीम में शामिल करने के बाद पहली बार कोच रवि शास्त्री ने पंत को लेकर अपनी बात रखी है। भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा है कि ऋषभ पंत टेस्ट टीम में चयन के हकदार हैं क्योंकि उन्होंने अपने आप को साबित किया है। इसके साथ ही इस समय भारतीय टीम के लिए एक दूसरे विकेटकीपर-बल्लेबाज को तैयार किया जाना भी जरूरी था जो युवा हो। पंत इन सभी पैमानों पर फिट बैठते हैं। शास्त्री ने वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो को दिए इंटरव्यू में कहा कि पंत इंडिया-ए से खेलते हुए टेस्ट में रन बना रहे थे तभी उन्हें सीनियर टीम में जगह दी है। शास्त्री से जब पूछा गया कि चयनकर्ताओं ने पंत का चयन कर बेहद बोल्ड कदम उठाया है?

(Photo Courtesy: BCCI)

इस पर कोच ने कहा, “बोल्ड क्यों? वह इंडिया-ए से खेलते हुए रन बना रहे थे। वह युवा हैं। यह समय है जब हमें एक एक और विकेटकीपर को तैयार करना है। उनमें वो प्रतिभा है। उनकी बल्लेबाजी देखें तो उसमें कुछ अलगपन सा है। वह मैच बदलने वाले खिलाड़ी साबित हो सकते हैं, तो उनको मौका क्यों नहीं दिया जा सकता।” शास्त्री ने साथ ही कहा कि कप्तान विराट कोहली इंग्लैंड की जनता के सामने रन बनाने के भूखे हैं। कोहली का पिछला इंग्लैंड दौरा अच्छा नहीं रहा था, लेकिन शास्त्री ने कहा है कि इन चार वर्षो में कोहली में काफी बदलाव हुए हैं।

उन्होंने कहा, “आप उनके रिकार्ड देख सकते हैं। मुझे यह बताने की जरूरत नहीं है कि उन्होंने इन चार वर्षो में क्या किया है। जब आप इस तरह से प्रदर्शन करते हो तो आपकी मानसिकता अलग स्तर पर होती है। आपके रास्ते में जो आता है आप उसका इंतजार करते हो। चार साल पहले जब वो आए थे तो उनका प्रदर्शन बेशक अच्छा नहीं रहा था, लेकिन चार साल बाद वो विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खिलाड़ी हैं। वह ब्रिटेन की जनता के सामने रन बनाने के भूखे हैं।”भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट मैच बुधवार से एजबेस्टन में शुरू हो रहा है। (आईएनएस इनपुट के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App