Champions Trophy 2017, IND vs SA: नॉकआउट मुकाबले में टीम इंडिया में होगा ये बदलाव! - Champions Trophy 2017, IND vs SA: Ravichandran Ashwin may take place of Kedar Jadhav in Knockout match - Jansatta
ताज़ा खबर
 

Champions Trophy 2017, IND vs SA: नॉकआउट मुकाबले में टीम इंडिया करेगी ये बड़ा बदलाव!

मध्य क्रम के बल्लेबाज केदार जाधव को बाहर बिठा कर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को अंतिम एकादश में जगह दी जा सकती है।

Author June 10, 2017 5:43 PM
भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच यह नॉकआउट मुकाबला इंग्‍लैंड के द ओवल ग्राउंड पर खेला जाता है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका दोनों टीमों के अपने पिछले मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था, जिसके कारण उनकी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें ग्रुप-बी के अंतिम मैच तक टल गई थीं। यह दोनों टीमें द ओवल मैदान पर रविवार को आमने-सामने होंगी, जहां सेमीफाइनल में जाने के लिए दोनों टीमों को सिर्फ जीत चाहिए। भारत को श्रीलंका ने मात दी थी तो वहीं पाकिस्तान ने दक्षिण अफ्रीका को डकवर्थ लुइस के तहत हराया था। भारत ने श्रीलंका के सामने 322 रनों का लक्ष्य रखा था जिसे श्रीलंका टीम ने छह विकेट खोकर हासिल कर लिया था। यह मैच कई लिहाज से भारत को उसकी कमजोरियों का आइना दिखा गया था। अगले मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली एक बदलाव टीम में कर सकते हैं। वह मध्य क्रम के बल्लेबाज केदार जाधव को बाहर बिठा कर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को अंतिम एकादश में जगह दे सकते हैं। अश्विन अभी तक हुए दोनों मैच में बाहर ही बैठे हैं। शानदार फॉर्म में चल रही रोहित शर्मा और शिखर धवन की सलामी जोड़ी ने टीम को इस टूर्नामेंट में मजबूत शुरुआत दी है। टीम को उनसे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाल मैच में भी इसी प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

श्रीलंका के खिलाफ कोहली और युवराज सिंह का बल्ला नहीं चला था लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में इन दोनों ने अर्धशतक जड़े थे। बल्ले से यह दोनों भी कमाल कर सकते हैं। अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए मशहूर पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी और युवा हार्दिक पांड्या निचले क्रम में अहम भूमिका निभाएंगे। वहीं रवींद्र जड़ेजा भी बड़े शॉट लगाने का दम रखते हैं। गेंदबाजी में पिछले मैच को देखते हुए कोहली के लिए संकट है। श्रीलंका के खिलाफ सिर्फ भुवनेश्वर कुमार ही विकेट लेने में सफल हुए थे। उनके अलावा कोई और गेंदबाज विकेट नहीं ले पाया था।

उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह, पांड्या और जडेजा टीम को विकेट नहीं दिला पाए थे। गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण ही भारत, श्रीलंका के खिलाफ हार गया था। दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका के पाकिस्तान के खिलाफ हुए मैच में न ही बल्लेबाज चले थे न ही गेंदबाज। डेविड मिलर ने जरूर 75 रनों का पारी खेल टीम को संभाला था। वहीं गेंदबाजों में मोर्ने मोर्कल तीन विकेट लेकर उसके सबसे सफल गेंदबाज रहे थे। भारत के खिलाफ उसे दोनों क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन करना होगा।

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान अब्राहम डिविलियर्स की फॉर्म इस टूर्नामेंट में अभी तक चिंता की बात रही है। उन्होंने पिछले दो मैचों में सिर्फ चार रन ही बनाए थे। टीम चाहेगी की वह भारत के खिलाफ इस करो या मरो वाले मुकाबले में रन करें। गेंदबाजी में कागिसो रबादा, वेन पार्नेल, क्रिस मौरिस के ऊपर मोर्कल का साथ देने की जिम्मेदारी होगी।

टीमें (संभावित) :-

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, केदार जाधव, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, दिनेश कार्तिक, अजिंक्य रहाणे।

दक्षिण अफ्रीका : अब्राहम डिविलियर्स (कप्तान), हाशिम अमला, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), डेविड मिलर, ज्यां पॉल ड्यूमिनी, फाफ डु प्लेसिस, इमरान ताहिर, केशव महाराज, फरहान बेहरदीन, क्रिस मौरिस, वेन पार्नेल, अंदिले फेहुवलक्वायो, डवायन फ्रीटोरियस, कागिसो रबाडा।

10 ऐसे क्रिकेटर्स जो गरीबी से उठकर बनें टीम इंडिया के सितारे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App