ताज़ा खबर
 

तो इस वजह से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में भुवनेश्वर कुमार को टीम में नहीं देखना चाहते जहीर खान

भारतीय तेज गेंदबाजों की बात करें तो उमेश यादव और इशांत शर्मा ने काफी निराश किया। वहीं मोहम्मद शमी ने 3 विकेट लेने में जरूर कामयाब रहे, लेकिन इस दौरान उन्होंने रन भी खूब खर्चे। भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान का मानना है कि 6 दिसंबर से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज के पहले दो मुकाबलों में भुवनेश्वर कुमार को प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा जाए।

भुवनेश्वर कुमार। (फोटो सोर्स- पीटीआई)

भारत को 6 दिसंबर को एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेलना है। इस मैच से पहले खेले गया चार दिन का प्रैक्टिस मैच शनिवार को ड्रॉ पर आकर खत्म हो गया। इस मैच के दौरान भारतीय गेंदबाजी काफी कमजोर नजर आई। ऑस्ट्रेलिया के अंडर-19 खिलाड़ियों ने भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ जमकर रन बनाए। भारतीय तेज गेंदबाजों की बात करें तो उमेश यादव और इशांत शर्मा ने काफी निराश किया। वहीं मोहम्मद शमी ने 3 विकेट लेने में जरूर कामयाब रहे, लेकिन इस दौरान उन्होंने रन भी खूब खर्चे। भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान का मानना है कि 6 दिसंबर से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज के पहले दो मुकाबलों में भुवनेश्वर कुमार को प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा जाए। जहीर खान ने क्रिकबज पर दिए अपने इंटरव्यू में कहा, ”इसमें कोई शक नहीं कि भुवी एक शानदार गेंदबाज हैं, लेकिन उन्हें पहले दो मुकाबलों में प्लेइंग इलेवन से बाहर रखना चाहिए।”

जहीर खान ने कहा, ”पहले दो मुकाबलों में भारतीय टीम को जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा और मोहम्मद शमी के साथ जाना चाहिए। भुवी पिछले कुछ समय से अपनी लय में नजर नहीं आ रहे। ऐसे में कप्तान को उन्हें थोड़ा समय देना चाहिए। ऑस्ट्रलिया की पिचों पर गेंद तेज गति से उछाल लेगी, ऐसे में मोहम्मद शमी और बुमराह ज्यादा कारगार साबित हो सकते हैं।” बता दें कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन के खिलाफ भी तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन निराशाजनक ही रहा है।

हालांकि, भारतीय गेंदबाज आर अश्विन ने माना कि दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड की तुलना में विरोधी बल्लेबाजों को आउट करना यहां कि पिचों पर मुश्किल होता है। अश्विन ने कहा कि भारतीय गेंदबाजों को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया एकादश के खिलाफ अभ्यास करने का अच्छा मौका मिला। यहां साझेदारी में गेंदबाजी करना जरूरी है। साझेदारी में गेंदबाजी के दम पर आप उन्हें परेशान कर सकते हैं। कई बार ऐसा ही होगा कि आप पूरी टीम को आउट नहीं कर सके। लेकिन आपको उन पर दबाव बनाना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 जब इस जगह पहुंचकर शोले के ‘गब्बर’ बन गए सचिन तेंदुलकर, कहा- ‘कितने आदमी थे’
2 8 छक्के और 6 चौके, महज 24 गेंदों में इस बल्लेबाज ने जड़ डाले 84 रन
3 IPL ऑक्शन से पहले युवराज सिंह का प्लॉप शो जारी, 88 गेंदों में बनाए सिर्फ 24 रन