ताज़ा खबर
 

बीसीसीआई के नए प्रशासकों ने पहली बार की बैठक, रामचंद्र गुहा रहे नदारद

समिति के प्रमुख राय ने इंतजार कर रहे संवाददाताओं से कहा कि आगे बढ़ने से पहले यह बैठक स्थिति को जानने के लिए थी।

Author मुंबई | January 31, 2017 7:44 PM
BCCI Vinod Rai, Vinod Rai News, Vinod Rai latest news, Vikram Limaye News, Vikram Limaye latest news, Diana Edulji News, Diana Edulji latest news, Ramchandra Guha news, Ramchandra Guha latest newsमुंबई में एक बैठक के दौरान भारत के पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक विनोद राय (दाएं), पूर्व भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान डायना इडुल्जी (बाएं) और बैंकर विक्रम लिमये (बीच में)। (PTI Photo by Santosh Hirlekar/31 jan, 2017)

उच्चतम न्यायालय द्वारा बीसीसीआई का प्रशासक नियुक्त किए जाने के बाद चार सदस्यीय पैनल के तीन सदस्यों ने मंगलवार (31 जनवरी) को यहां बीसीसीआई मुख्यालय से दूर दक्षिण मुंबई में पहली बैठक की। भारत के पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक विनोद राय, पूर्व भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान डायना इडुल्जी और बैंकर विक्रम लिमये बीकेसी में आईडीएफसी बैंक के परिसर में बैठक के दौरान मौजूद थे। हालांकि चौथे प्रशासक और जाने माने इतिहासविद रामचंद्र गुहा इस दौरान मौजूद नहीं थे। समिति के प्रमुख राय ने इंतजार कर रहे संवाददाताओं से कहा कि आगे बढ़ने से पहले यह बैठक स्थिति को जानने के लिए थी।

उच्चतम न्यायालय ने बीसीसीआई के संचालन और अदालत द्वारा सवीकृत न्यायमूर्ति आरएम लोढ़ा समिति के सुधारवादी कदम क्रिकेट बोर्ड में लागू करने के लिए सोमवार (30 जनवरी) को प्रशासकों की चार सदस्यीय समिति नियुक्त की थी। उच्चतम न्यायालय ने कहा था कि बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी प्रशासकों की इस संस्था को रिपोर्ट करेंगे। राय ने बैठक के बाद कहा, ‘हमने बैठक की जो हम सभी को बीसीसीआई के संचालन की जानकारी देने के लिए थी। हम जल्द ही भविष्य की कार्रवाई पर फैसला करेंगे।’

इससे पहले प्रतिवाद को दरकिनार करते हुये उच्चतम न्यायालय ने सोमवार (30 जनवरी) को भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड के संचालन की कमान पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक विनोद राय के नेतृत्व वाले प्रशासकों की समिति को सौंप दी। यह समिति ही क्रिकेट की इस धनाढ्य संस्था में सुधार के लिये न्यायालय द्वारा मंजूर न्यायमूर्ति आर एम लोढ़ा समिति की सिफारिशें भी लागू करेगी। प्रशासकों की इस समिति के अन्य सदस्यों में क्रिकेट के इतिहासकार रामचंद्र गुहा, आईडीएफसी के प्रबंध निदेशक विक्रम लिमये और भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान डायना एडुल्जी को शामिल किया गया है जो इस संस्था के कामकाज के बारे में बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी से बातचीत करेंगे।

न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति धनंजय वाई चंद्रचूड की तीन सदस्यीय खंडपीठ ने इसके साथ ही आईसीसी की अगले महीने होने वाली बैठक में बीसीसीआई का प्रतिनिधित्व करने के लिये तीन नामों को भी मंजूरी दे दी। इस बैठक में विक्रम लिमये बोर्ड के क्रिकेट प्रशासक अमिताभ चौधरी और अनिरुद्ध चौधरी के साथ बीसीसीआई का प्रतिनिधित्व करेंगे। पीठ ने प्रशासकों की समिति के लिये चार सदस्यों के नामों की घोषणा करने के साथ ही अटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी का यह अनुरोध ठुकरा दिया कि इसमें खेल मंत्रालय के सचिव को भी एक प्रशासक बनाया जाये। पीठ ने कहा कि 18 जुलाई, 2016 के फैसले में न्यायालय ने स्पष्ट रूप से मंत्रियों और सरकारी कर्मचारियों को बीसीसीआई में कोई भी पद लेने से वंचित कर दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अश्विन ने गेंदबाजी पर ताना मारने वाले शख्‍स को दिया जवाब तो खुश हुए टि्वटर यूजर
2 IND vs BAN: चार घंटे की देरी से शुरू हुई बीसीसीआई की बैठक, अमिताभ चौधरी नहीं हो सके शामिल
3 बांग्‍लादेश के खिलाफ टेस्‍ट के लिए टीम इंडिया का एलान, अभिनव मुकुंद की वापसी, पार्थिव बाहर
ये पढ़ा क्या?
X