ताज़ा खबर
 

पिछले वित्त वर्ष में बीसीसीआई की बचत 111 करोड़ रुपए रही

बीसीसीआई कोषाध्यक्ष के अनुसार वर्तमान वित्त वर्ष (2016 - 17) में बजट अधिशेष 509.13 करोड़ रुपए होने का अनुमान है।
Author मुंबई | September 23, 2016 21:40 pm
पिछले हफ्ते बीसीसीआई की सालाना आम बैठक में नए चयनकर्ता चुने गए। (पीटीआई फाइल फोटो)

बीसीसीआई की पिछले वित्त वर्ष में कुल बचत 111.83 करोड़ रुपए रही जो उससे पिछले साल की तुलना में 55 करोड़ रुपए कम है। बोर्ड के कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी ने यह जानकारी दी। चौधरी ने 2015-16 के लिए अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा, ‘इस वर्ष में व्यय के बाद कुल बचत 111.83 करोड़ रुपए रही जबकि इससे पिछले साल यह 166.87 करोड़ रुपए थी।’ उन्होंने कहा, ‘बचत में कमी का मुख्य कारण संघों को अतिरिक्त धनराशि का वितरण, खिलाड़ियों को अतिरिक्त भुगतान और चैंपियन्स लीग टी20 टूर्नामेंट का आयोजन नहीं होना रहा।’

बीसीसीआई कोषाध्यक्ष के अनुसार वर्तमान वित्त वर्ष (2016 – 17) में बजट अधिशेष 509.13 करोड़ रुपए होने का अनुमान है। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि क्रिकेट परिचालन (चैंपियन्स लीग टी20 को हटाकर) पर खर्चा 311.21 करोड़ से बढ़कर 370.04 करोड़ रुपए हो गया तथा सकल राजस्व आय में वृद्वि के कारण खिलाड़ियों को भुगतान की जाने वाला सकल राजस्व हिस्से का प्रावधान 10.47 करोड़ रुपए से बढ़कर 56.35 करोड़ रुपए हो गया।

पिछले वित्त वर्ष की समाप्ति पर पुरुषों की सीनियर टीम के अंतरराष्ट्रीय दौरों, टूर्नामेंट से वार्षिक सकल प्राप्तियां 149.44 करोड़ रुपए बढ़ गई जबकि पिछले वर्ष में यह 120.78 करोड़ रुपए थी। वर्ष 2015-16 में भारतीय सरजमीं पर अंतरराष्ट्रीय मैचों के अधिक आयोजन के कारण ऐसा हुआ। आईपीएल 2015 से सकल मीडिया अधिकार और फ्रेंचाइजी से होने वाली प्राप्तियां 1069.75 करोड़ रुपए रही जबकि पिछले साल यह 999.6 करोड़ रुपए थी। चौधरी ने कहा कि ऐसा मीडिया अधिकारों की आय में बढ़ोतरी से हुआ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.