ताज़ा खबर
 

BAN vs SL: क्रिकेटर आरपी सिंह ने फोटो शेयर कर कहा- ये जिसने भी किया वो माफी मांगे

सिंह ने फोटो शेयर कर उस खिलाड़ी से भी माफी मांगने के कहा है जिसने शीशा तोड़ा है। शनिवार को किए ट्वीट में भारतीय खिलाड़ी ने लिखा कि यह कुछ ऐसा नहीं है जिसके लिए क्रिकेट का खेल जाना जाता है, इन तस्वीरों से खेल भावना को बड़ा झटका लगा है।

आरपी सिंह ने सभी तस्वीरें अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की है।

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज रहे आरपी सिंह ने बांग्लादेश और श्रीलंका के बीच खेले गए टी-20 मैच में हुए हंगामे और बाद में स्टेडियम का शीशा टूटने पर अपना गुस्सा जाहिर किया है। सिंह ने फोटो शेयर कर उस खिलाड़ी से भी माफी मांगने के कहा है जिसने शीशा तोड़ा है। शनिवार को किए ट्वीट में भारतीय खिलाड़ी ने लिखा कि यह कुछ ऐसा नहीं है जिसके लिए क्रिकेट का खेल जाना जाता है, इन तस्वीरों से खेल भावना को बड़ा झटका लगा है। ट्वीट में आगे लिखा गया, ‘मुझे उम्मीद है जिसने भी यह किया है वो माफी मांगे और अपने अपराध को स्वीकार करे। दरअसल 16 मार्च को निदाहास ट्राफी टी-20 त्रिकोणीय सीरीज में फाइलन के लिए महत्वपूर्ण मुकाबले में श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाड़ियों के बीच कई बार टकराव हुआ। तब मैच के बाद आर प्रेमदासा स्टेडियम में बांग्लादेशी खिलाड़ियों के ड्रेसिंग रूम का शीशा टूटा हुआ मिला है।

हालांकि ग्राउंड के कर्मचारियों से सीसीटीवी फुटेज की जांच करने और घटना के कारणों का पता लगाने के लिए कहा गया है। घटना तब घटी जब महत्वपूर्ण मुकाबले में बांग्लादेश ने श्रीलंका को हरा दिया, तब कथित तौर पर एक बांग्लादेशी खिलाड़ी ने ड्रेसिंग रूम का शीशा तोड़ दिया। निदाहास ट्रॉफी के सेमी फाइनल मुकाबले में 159 का पीछा करने उतरी बांग्लादेशी टीम ने यह टारगेट एक गेंद शेष रहते हासिल कर लिया था। इससे पहले मैच के दौरान मैदान पर दोनों टीम के खिलाड़ियों के बीच टकराव भी हुआ। दरअसल आखिरी ओवर में जीत के लिए बांग्लादेश को 12 रन बनाने थे। आखिरी ओवर की पहली गेंद शॉट पिच होने पर क्रीज पर मौजूद खिलाड़ी रन नहीं ले सका। दूसरी गेंद भी डॉट रही। इस पर बांग्लादेशी खिलाड़ी ने कहा कि गेंद बाउंसर थी। इसुरु उड़ाना गेंदबाजी करा रहे थे और मुस्तफिजुर रहमान उनकी गेंद खेलने में असमर्थ नजर आ रहे थे और वह रन आउट हो गए।

आरपी सिंह के ट्वीट पर अन्य लोगों ने भी अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। देखें कमेंट्स-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App