ताज़ा खबर
 

टेस्ट टीम में इस खिलाड़ी के होने से नाखुश हैं गौतम गंभीर, चयनकर्ताओं पर उठाए सवाल

इस सीरीज पर क्रिकेट फैंस के साथ-साथ दिग्गज खिलाड़ियों की नजरें भी बनी हुई है। इसी बीच भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने मुरली विजय के टीम में होने पर सवाल खड़े किए हैं। एक टीवी चैनल शो के दौरान गंभीर ने कहा कि अगर मुरली विजय को टीम में लाना ही था तो उन्हें ड्रॉप नहीं करना चाहिए था।

भारतीय टीम और गौतम गंभीर।

भारतीय और ऑस्ट्रेलिया के बीच 6 दिसंबर से एडिलेड में 4 मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज होना है। इस सीरीज पर क्रिकेट फैंस के साथ-साथ दिग्गज खिलाड़ियों की नजरें भी बनी हुई है। इसी बीच भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने मुरली विजय के टीम में होने पर सवाल खड़े किए हैं। एक टीवी चैनल शो के दौरान गंभीर ने कहा कि अगर मुरली विजय को टीम में लाना ही था तो उन्हें ड्रॉप नहीं करना चाहिए था। गंभीर ने कहा, ”इंग्लैंड में मुरली विजय लगातार फ्लॉप रहे थे, इस दौरान एक मैच ऐसा भी गुजरा जब वो दोनों ही पारियों में बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए थे। खराब फॉर्म के कारण उन्हें टीम से बाहर किया गया और वेस्टइंडीज दौरे पर उनकी जगह मयंक अग्रवाल को शामिल किया गया। इसके बाद मयंक को वेस्टइंडीज के खिलाफ एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला और वह बिना खेले ही टीम से बाहर हो गए। चयनकर्ताओं ने ऐसा कर मयंक को ये बताया कि वह सिर्फ भारतीय सरजमीं पर बेहतर खेल सकते हैं बाहर नहीं।”

गंभीर ने कहा, ”अगर मुरली विजय को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर लेकर जाना ही था तो फिर उन्हें ड्रॉप करने का क्या मतलब? बहुत बुरा लगता है जब कोई खिलाड़ी बिना खेले ही टीम से बाहर हो जाए। मयंक डोमेस्टिक सीजन में लगातार रन बनाते आए हैं। ऐसे में उन्हें बाहर करने का चयनकर्ताओं के पास कोई कारण नहीं था। बता दें कि मयंक अग्रवाल ने साल 2017-18 विजय हजारे ट्रॉफी के दौरान बल्लेबाजी से कई रिकॉर्ड अपने नाम किया। 8 मैचों में 90 की शानदार औसत से मयंक ने इस टूर्नामेंट में 723 रन बनाया था।

सीरीज से पहले दोनों ही टीमों के खिलाड़ी तैयारियों में जुटे हुए हैं। बुधवार से शुरू हो रहे प्रैक्टिस मैच से पहले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने जमकर नेट पर पसीना भी बहाया। वहीं भारतीय खिलाड़ी के पास बुधवार से शुरू हो रहे अभ्यास मैच के दौरान खुद को साबित करने का मौका होगा। भारत के पास मोहम्मद शमी, उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार जैसे चार तेज गेंदबाज मौजूद हैं, जो ऑस्ट्रेलिया पिचों पर कारगार साबित हो सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App