ताज़ा खबर
 

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने कहा – कुलदीप यादव नहीं बल्कि अश्विन को मिले पहले टेस्ट में खेलने का मौका

कुलदीप यादव ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में शानदार प्रदर्शन किया था। कुलदीप के प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें टेस्ट टीम में शामिल किया गया। भारतीय पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान भी कुलदीप को टीम में लेने की वकालत कर चुके हैं। ऐसे में कप्तान विराट कोहली के लिए कुलदीप और अश्विन में से किसी एक का चयन करना कतई आसान काम नहीं होगा।

आर अश्विन और भारतीय टीम।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर माइक हसी ने कहा कि भारतीय टीम को इंग्लैंड के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज में कुलदीप यादव की जगह अनुभवी रविचंद्रन अश्विन को टीम में जगह देनी चाहिए। मिस्टर क्रिकेट के नाम से जाने जाने वाले इस पूर्व खिलाड़ी ने कहा, ‘‘ मुझे नहीं पता चयनकर्ता क्या सोच रहे हैं। व्यक्तिगत रूप से, मुझे लगता है कि कुलदीप की जगह अश्विन को तरजीह मिलनी चाहिए। उनके नाम 300 से ज्यादा विकेट हैं। अश्विन शुरूआती एकदश में जगह पाने के हकदार हैं।’’ हसी की राय हालांकि कई विशेषज्ञों के मौजूदा दृष्टिकोण के विपरीत है, जिन्होंने पांच मैचों की श्रृंखला में टेस्ट टीम में 23 वर्षीय चाइनामैन गेंदबाज के चयन का समर्थन किया है। तमिलनाडु प्रीमियर लीग (टीएनपीएल) में स्टार स्पोर्ट्स कमेंटेटर के रूप में यहां आएं हसी ने कहा, ‘‘ बायें हाथ के बल्लेबाजों के खिलाफ अश्विन बड़ी भूमिका निभा सकते हैं।

रविचंद्रन अश्विन। (Photo Courtesy: ICC)

कुलदीप ने शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन मुझे लगता है कि भारत को अश्विन के साथ उतरना चाहिए। कुलदीप युवा हैं और उसे अभी काफी कुछ सीखना है।’’ हसी से जब पूछा गया कि क्या भारतीय टीम टेस्ट श्रृंखला जीत सकती है तो उन्होंने कहा, ‘‘ भारत की टीम अच्छी है और अच्छा क्रिकेट खेल रही है। टीम के ज्यादातर खिलाड़ी कुछ समय से इंग्लैंड में हैं। ड्यूक गेंद और वहां की पिचों से सामंजस्य बैठाने में थोड़ा समय लगता है।’’

बता दें कि कुलदीप यादव ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में शानदार प्रदर्शन किया था। कुलदीप के प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें टेस्ट टीम में शामिल किया गया। भारतीय पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान भी कुलदीप को टीम में लेने की वकालत कर चुके हैं। ऐसे में कप्तान विराट कोहली के लिए कुलदीप और अश्विन में से किसी एक का चयन करना कतई आसान काम नहीं होगा। (इनपुट भाषा के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App