ताज़ा खबर
 

अनिल कुंबले ने साफ कहा- विराट कोहली के चलते दिया इस्तीफा, पढ़िए उनका “त्यागपत्र”

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच अनिल कुंबले ने कप्तान विराट कोहली के साथ मतभेदों के बीच मंगलवार को अपना पद छोड़ दिया और इस तरह से उनके सफल कार्यकाल का कड़वा अंत हुआ।

भारतीय टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले।

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच अनिल कुंबले ने कप्तान विराट कोहली के साथ मतभेदों के बीच मंगलवार को अपना पद छोड़ दिया और इस तरह से उनके सफल कार्यकाल का कड़वा अंत हुआ।  कुंबले ने बीसीसीआइ को अपने फैसले से अवगत कराया जिसने बाद में संक्षिप्त बयान में इस पूर्व कप्तान के त्यागपत्र की पुष्टि की। बीसीसीआई ने बयान में कहा, भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआइ) पुष्टि करता है कि अनिल कुंबले ने भारतीय सीनियर पुरुष टीम के मुख्य कोच पद के तौर पर अपनी सेवाएं समाप्त करने का फैसला किया है। इसमें कहा गया है, क्रिकेट सलाहकार समिति (सीईसी) ने हालांकि मुख्य कोच के रूप में उनका कार्यकाल बढ़ाने का पक्ष लिया था लेकिन अनिल कुंबले ने कोच के रूप में नहीं बने रहने का फैसला किया। अनिल कुंबले ने इस पूरे विवाद पर एक फेसबुक पोस्ट भी लिखी है। इस फेसबुक पोस्ट में अनिल पिछले एक सात में मिली कामयाबी का श्रेय टीम को और कप्तान को दिया है तो वहीं कप्तान कोहली के साथ मनमुटाव की बात भी स्वीकार की है। अनिल ने लिखा कि उन्हें कल ही पहली बार बीसीसीआई द्वारा इस बात की जानकारी दी गई कि कप्तान को उनकी कोचिंग स्टाइल पसंद नहीं है। उन्होंने आगे लिखा कि उन्होंने हमेशा कोच और कप्तान के बीच की सीमाओं का सम्मान किया है। इसलिए वो ये जानकर हैरान भी हुए।
बीसीसीआई ने चैंपियंस ट्राफी शुरू होने से एक दिन पहले ही मुख्य कोच पद के लिए नए आवेदन मंगवाए थे। कुंबले को कोच चयन प्रक्रिया में सीधा प्रवेश मिला था। जिन अन्य ने इस पद के लिए आवेदन किया है उनमें वीरेंद्र सहवाग, टाम मूडी, रिचर्ड पायबस और लालचंद राजपूत भी शामिल हैं। चैंपियंस ट्राफी से इतर बीसीसाआई की सीएसी, जिसमें सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और सौरव गांगुली शामिल हैं, ने कुंबले और कोहली के बीच मतभेद दूर करने के लिए उनके साथ बैठक की थी। बीसीसीआई में माना जा रहा है कि कोहली और सीएसी की बीच बैठक में कप्तान ने साफ कर दिया था कि कोच के साथ उनके संबंध अच्छे नहीं हैं। सीएसी ने ही पिछले साल कुंबले को मुख्य कोच चुना था। समिति जल्द ही कुंबले उत्तराधिकारी पर फैसला करेगी।  इसमें आगे कहा गया है कि बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ और क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर वेस्टइंडीज दौरे में टीम के साथ बने रहेंगे। पूरी चैंपियंस ट्राफी के दौरान अभ्यास सत्र में कुंबले और कोहली के बीच बमुश्किल बातचीत हुई। इस दौरान कुंबले को अधिकतर गेंदबाजों को अभ्यास कराते हुए देखा गया।  टीम ने कुंबले के कोच रहते हुए अच्छा प्रदर्शन किया। उसने वेस्टइंडीज के खिलाफ उसकी सरजमीं पर 2-0 से शृंखला जीती और उसके बाद न्यूजीलैंड (3-0), इंग्लैंड (4-0), बांग्लादेश (1-0) और आस्ट्रेलिया (2-1) को घरेलू शृंखला में हराया। टीम ने इस 46 वर्षीय पूर्व कप्तान के कार्यकाल के दौरान आठ वनडे जीते और पांच गंवाए।

;

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App