ताज़ा खबर
 

IND vs NZ: सीरीज हारने के बाद बोले कीवी कप्तान, मैच के दौरान हुई इस गलती का रहेगा अफसोस

India vs New Zealand, Ind vs NZ 2019 Schedule, Time Table, Squad: विलियमसन ने भारतीय गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने न्यू जीलैंड पर दबाव बनाए रखा। कीवी कप्तान ने कहा, 'मुझे लगता है पूरी सीरीज के दौरान भारतीय टीम हम से कहीं बेहतर रही और गेंदबाजी इकाई के तौर पर वे शानदर थे।

Author February 4, 2019 11:26 AM
केन विलियमसन। (फोटो सोर्स- एपी)

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने रविवार को भारत के खिलाफ वनडे सीरीज का 5वां और अंतिम मैच गंवाने के बाद कहा कि अनुभवी रॉस टेलर के LBW आउट होने के बाद DRS नहीं लेने का उन्हें अफसोस है। जीत के 253 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यू जीलैंड की पारी के 11वें ओवर में पंड्या ने फॉर्म में चल रहे टेलर (1) को LBW आउट कर दिया जिससे टीम का स्कोर 3 विकेट पर 38 रन हो गया। गेंद टेलर के घुटने के ऊपर लगी थी और मैदानी अंपायर के द्वारा आउट दिए जाने के बाद उन्होंने दूसरे छोर पर खड़े विलियमसन से बात करने के बाद पविलियन का रुख कर लिया। टेलिविजन रीप्ले में हालांकि देखा गया कि गेंद विकेट के ऊपर से निकल रही थी। विलियमसन ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मुझे इसके बारे मे जल्द ही पता चल गया और यह काफी निराशाजनक था। रॉस (टेलर) शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे ऐसे में जब आपको अपनी गलती का अहसास होता है तो दिल दुखता है।’ इन दोनों खिलाड़ियों के पास मैदानी अंपायर के फैसले को चुनौती देने के लिए 15 सेकेंड का समय था लेकिन विलियमसन से कोई इशारा नहीं मिलने पर टेलर ने पविलियन का रुख कर लिया।

उन्होंने कहा, ‘हां, वह मेरे पास आए और बोले क्या हमें DRS लेना चाहिए, शायद गेंद थोड़ी ज्यादा ऊंची थी। दुर्भाग्य से हमने DRS नहीं लेने का फैसला किया।’ ऑलराउंडर जिमी नीशाम भी विकेट के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी की चपलता से आउट हुए। उनके खिलाफ LBW की अपील हुई और वह क्रीज के बाहर खड़े थे, जब तब धोनी ने स्टंप्स की गिल्लियां बिखेर दीं। विलियमसन ने कहा, ‘हां, वह शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे। वह ऐसे आउट होना नहीं चाहते थे। यह लापरवाही का नतीजा है। वह अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे और मिशेल सैंटनर के साथ उनकी साझेदारी से हमें जीत की उम्मीद थी।’

विलियमसन ने भारतीय गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने न्यू जीलैंड पर दबाव बनाए रखा। कीवी कप्तान ने कहा, ‘मुझे लगता है पूरी सीरीज के दौरान भारतीय टीम हम से कहीं बेहतर रही और गेंदबाजी इकाई के तौर पर वे शानदर थे। तेज और स्पिन गेंदबाजों की सटीकता ने हम पर दबाव बनाए रखा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App