ताज़ा खबर
 

आदित्य वर्मा ने नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र, कहा- खेल विधेयक लागू होने से बीसीसीआई पर हो सकता है सरकार का नियंत्रण

वर्मा ने कहा, ‘लोढ़ा समिति ने बीसीसीआई के कामकाज में सरकार के हस्तक्षेप की कोई सिफारिश नहीं की है।'

Author नई दिल्ली | September 9, 2016 2:55 PM
गैर मान्यता प्राप्त क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार के सचिव आदित्य वर्मा। (फाइल फोटो)

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में याचिकाकर्ता आदित्य वर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आगाह किया है कि खेल विधेयक लागू किए जाने से बीसीसीआई पर सरकार का नियंत्रण हो सकता है। वर्मा ने यह चेतावनी ऐसे समय में दी है जबकि बीसीसीआई को उच्चतम न्यायालय से नियुक्त लोढ़ा पैनल की सिफारिशों के अनुरूप बोर्ड में आमूलचूल सुधारों को लागू करने के संबंध में दो तय समयसीमाओं का सामना करना पड़ रहा है। वर्मा ने गुरुवार (8 सितंबर) को भेजे पत्र में लिखा है, ‘मीडिया में अटकलबाजी लगायी जा रही है कि बीसीसीआई भारत सरकार से एक विधेयक लाने के लिए कह सकता है जिसमें न्यायमूर्ति लोढ़ा समिति की सिफारिशों से बाहर निकलने के प्रावधान हों। इससे आखिर में बोर्ड के निहित स्वार्थों को ही फायदा होगा।’

उन्होंने कहा, ‘बीसीसीआई के पदाधिकारियों को सराहना करनी चाहिए कि इन सुधारों से पारदर्शिता सुनिश्चित होगी और इससे बोर्ड की स्वायत्ता बनी रहेगी।’ वर्मा ने कहा, ‘लोढ़ा समिति ने बीसीसीआई के कामकाज में सरकार के हस्तक्षेप की कोई सिफारिश नहीं की है। संसद में कानून (खेल विधेयक) पारित करने के किसी भी प्रयास का परिणाम बीसीसीआई पर सरकार का नियंत्रण होगा। इसलिए कोई भी ऐसा कानून पारित करना गलत होगा जिससे कि लोढ़ा समिति की सिफारिशें निष्प्रभावी हो जाएं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App