ताज़ा खबर
 

Cricket World Cup 2019: दुनिया की सबसे छोटी ट्रॉफी, बल्ला और गेंद तैयार कर शख्स ने बनाया रिकॉर्ड, PMO को चिट्ठी लिख कही यह बात

उदयपुर के नामी शिल्पकार ने क्रिकेट वर्ल्ड कप की दुनिया की सबसे छोटी ट्रॉफी, बल्ला और गेंद बनाया है। वे इसे विश्व कप 2019 को जीतते वाली टीम को भेट देना चाहते हैं।

Author जयपुर | July 14, 2019 1:54 PM
प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

Cricket World Cup 2019: उदयपुर के प्रसिद्ध शिल्पकार और गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्डधारी इकबाल सक्का ने क्रिकेट वर्ल्ड कप की दुनिया की सबसे छोटी ट्रॉफी, बल्ला और गेंद बनाकर नया रिकॉर्ड बनाया है। बता दें कि वह विश्व कप जीतने वाली टीम को भारत सरकार की तरफ से अपनी यह छोटी सी सौगात भेंट करना चाहते हैं। वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय ने उनके इस आग्रह को खेल मंत्रालय के पास भेजा है। शिल्पकार ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सात जून को पत्र भेजा था । बताया जा रहा है कि गत 26 जून को प्रधानमंत्री कार्यालय से उन्हें एक पत्र मिला है जिसमें उनके आग्रह को खेल मंत्रालय को भेजने की सूचना दी गई है।

भारत को देने का सपना था यह प्रतिकृतिः सक्का ने ‘भाषा’ को बताया कि वह भारत को विश्व कप जीतते हुए देखना चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। ऐसे में वह चाहते हैं कि विश्वकप क्रिकेट प्रतियोगिता में कोई भी टीम विजेता बने उसे उनकी इस छोटी सी सुनहरी सौगात को भारत सरकार की तरफ से भेंट किया जाए। गत दिनों विश्वकप प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड के हाथों भारत की हार के बाद अब वह अपनी यह रचना विश्व कप विजेता टीम को देना चाहते हैं। न्यूजीलैंड ने विश्व कप के पहले सेमीफाइनल में भारत को 18 रन से शिकस्त देकर फाइनल में प्रवेश किया था जहां उसका सामना रविवार (14 जुलाई) को लार्ड्स पर मेजबान इंग्लैंड से हो रहा है।

National Hindi News, 14 July 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

देखने के लिए सूक्ष्मदर्शी लैंस की होगी जरूरतः प्रसिद्ध शिल्पकार सक्का ने बताया कि एक मिलीमीटर सोने से बना प्रतिकृति विश्वकप 2019, एक मिलीमीटर सोने से बनाया गया बल्ला और आधा मिलीमीटर की गेंद की कलाकृति को बनाने में तीन चार दिन का ही समय लगा है। लेकिन यह कलाकृतियां इतनी सूक्ष्म है कि इनके छोटे छोटे टुकड़ों को बड़े जतन से जोड़ा गया। बताया जा रहा है कि इनके आकार के बारे में आसानी से समझाने के लिए वह बताते हैं कि इसका एक एक टुकड़ा एक चींटी के सौंवे भाग से भी छोटा है। बता दें कि यह जान लेना दिलचस्प होगा कि उनकी इस रचना को देखने के लिए सूक्ष्मदर्शी लैंस की जरूरत होगी।

Bihar News Today, 14 July 2019: बिहार की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

सक्का के नाम कई रिकॉर्ड दर्जः सोने चांदी की सूक्ष्म कलाकृतियों के कलाकार इकबाल सक्का ने 1991 में अपने इस हुनर को लेकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया है। इसके अलावा वह 1993 में लिम्का बुक आफ रिकार्ड, 2013 में एशिया बुक आफ रिकॉर्डस, 2012 में यूनीक वर्ल्ड रिकॉर्ड सहित बहुत से रिकॉर्ड अपने नाम को दर्ज करा चुके है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App