ताज़ा खबर
 

VIDEO: इन 5 बल्लेबाजों ने जड़े हैं वनडे इतिहास के सबसे तेज शतक

बूम-बूम अफीरीद ने ये रिकॉर्ड 1996 में श्रीलंका के खिलाफ नैरोबी में बनाया था। इसके 18 साल बाद उनका ये रिकॉर्ड टूट सका था।

एबी डिविलियर्स ने 2015 में अब तक का सबसे तेज शतक जड़ने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था।

‘बूम-बूम’ के नाम से मशहूर पाकिस्तान के धुरंधर बल्लेबाज शाहिद अफरीदी ने 1996 में श्रीलंका के खिलाफ 37 गेंदों में सबसे तेज शतक जो लगाया उस रिकॉर्ड को टूटने में पूरे 18 साल लग गए थे। इस दौरान शाहिद अफरीदी अपनी बैटिंग के दम पर क्रिकेट फैंस के मन में अपनी गहरी छाप छोड़ चुके थे। लेकिन आज 21 साल बाद ये रिकॉर्ड किसी और के नाम है। तो आइए, हम आपको वनडे में सबसे तेज शतक लगाने वाले 5 बल्लेबाजों के बारे में बताते हैं।

1) एबी डिविलियर्स (31 गेंद) : साउथ अफ्रीका के विस्फोटक बल्लेबाज एबी डिविलियर्स ने 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अब तक का सबसे तेज शतक जड़ने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था। डिविलियर्स ने इस दौरान 149 रन की पारी खेली थी, जोहानिसबर्ग में खेले गए इस मैच में उन्होंने 16 छ्क्के और 9 चौके लगाए थे।

2) कोरे एंडरसन (36 गेंदें) : न्यूजीलैंड के इस बल्लेबाज ने 1 जनवरी 2014 को क्वींसटाउन में वेस्टइंडीज के खिलाफ 36 गेंदों में अपना शतक लगाया था। एंडरसन ने नाबाद 131 रन की पारी में 14 छक्के और 6 चौके जड़े थे।

3) शाहिद अफरीदी (37 गेंदें) : बूम-बूम अफीरीद ने ये रिकॉर्ड 1996 में श्रीलंका के खिलाफ नैरोबी में बनाया था। मैदान पर उतरते ही इस युवा बल्लेबाज ने चौके-छक्कों की ऐसी बारिश की, जिसे देख हर कोई हैरान रह गया। इस मैच में उन्होंने केवल 37 गेंदों में शतक जड़कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया था। उन्होंने दुनिया को दिखाया था कि विश्व क्रिकेट में एक नया सुपरस्टार उभर रहा है। इस पारी में उन्होंने 11 छक्के और 6 चौके लगाए।

4) मार्क बाउचर (44 गेंदें) : साउथ अफ्रीका के इस खिलाड़ी ने जिंबाब्वे के विरुद्ध खेलते हुए 44 गेंदों में अपना शतक पूरा किया था। इस दौरान उन्होंने 10 छक्कों और 8 चौकों की मदद से नाबाद 147 रन की पारी खेली।

5) शाहिद अफरीदी-ब्रायन लारा (45 गेंदें) : वनडे इतिहास का पांचवां सबसे तेज शतक लगाने का कारनामा शाहिद अफरीदी और ब्रायन लारा के बीच संयुक्त रूप से है। ब्रायन लारा ने बांग्लादेश के खिलाफ 1999 तो शाहिद अफरीदी ने भारत के लिए 2005 में ये कारनामा किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App