ताज़ा खबर
 

अगर क्रिकेटर न होतीं कप्तान मिताली राज तो इस प्रोफेशन में अजमातीं किस्मत

जब मिताली 10 साल की थीं तो उनके पिता उन्हें सिकंद्राराबाद में सेंट जोन्स कोचिंग कैंप में ले जाया करते थे।

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज।

वनडे और टेस्ट क्रिकेट में 50 से ज्यादा का एवरेज। टी20 क्रिकेट में 40 का औसत। यह आंकड़े किसी और के नहीं बल्कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज के हैं। महिला वनडे क्रिकेट के इतिहास में मिताली राज 6000 रन बनाने वालीं पहली क्रिकेटर हैं। उन्होंने सिर्फ 183 मैचों में यह कारनामा किया है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मिताली क्रिकेटर नहीं बनना चाहती थीं। जोधपुर में पैदा हुईं मिताली की क्लासिकल डांस में काफी दिलचस्पी थी। वह एक अच्छी भरतनाट्यम डांसर हैं, लेकिन शायद किस्मत को कोई और ही मंजूर था। उनके पिता दोराई राज एक इंडियन एयरफोर्स अफसर थे। बाद में उन्होंने आंध्रा बैंक जॉइन कर लिया। जब मिताली 10 साल की थीं तो वह उन्हें सिकंद्राराबाद में सेंट जोन्स कोचिंग कैंप में ले जाया करते थे।

पीटीआई से बातचीत में उनके पिता ने कहा, वह डांसर बनना चाहती थी। लेकिन किस्मत ने उनके लिए कुछ और ही सोचा था। आरएसआर मूर्ति मिताली को साल 2000 से देखते आ रहे हैं। भारतीय कप्तान की तारीफ में उन्होंने कहा, यह एक शानदार अचीवमेंट है। मैं बहुत खुश हूं। उन्होंने कहा, मिताली ने कड़ी मेहनत और लगन के कारण यह मुकाम हासिल किया है। उन्हें अपने करियर में कई और मंजिलें हासिल करनी हैं। वह सिर्फ भारत ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के लिए रोल मॉडल बन चुकी हैं। उन्होंने यह भी बताया कि मिताली ने कई त्याग किए हैं। वह अपने करियर के कारण सामाजिक समारोह में नहीं जातीं।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J3 Pro 16GB Gold
    ₹ 7490 MRP ₹ 8800 -15%
    ₹0 Cashback
  • ARYA Z4 SSP5, 8 GB (Gold)
    ₹ 3799 MRP ₹ 5699 -33%
    ₹380 Cashback

उन्होंने कहा, मुझे आज भी वो दिन याद है जब रेलवे टीम के नेट्स पर मिताली पहली बार प्रैक्टिस के लिए आई थीं। उसने कहा था कि अगर मुझे उसकी बल्लेबाजी में कोई खामी या गंभीरता की कमी दिखे तो वह उन्हें डांट भी लगा सकते हैं। उन्होंने कहा, मैं यह देखकर हैरान था। मूर्ति ने यह भी बताया कि कैसे मिताली ने अपनी ताकत बढ़ाने और कई तरह के शॉट्स खेलने के लिए गोल्फ खेलने का फैसला किया था। उन्होंने कहा, पिछले साल वर्ल्ड कप टी20 से पहले मिताली ने एक सुबह मुझसे कहा कि वह गोल्फ खेलना शुरू करना चाहती है। उनकी लगन का आलम यह था कि वह पहले हैदराबाद गोल्फ कोर्स जाकर गोल्फ खेलती थी, फिर वापस आकर नेट्स पर बैटिंग प्रैक्टिस करती थी।

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App