ताज़ा खबर
 

पुजारा की बल्लेबाजी को क्रिकेट विशषज्ञों ने सराहा, टीम इंडिया के ‘मैराथन मैन’ की दी संज्ञा

भारत, आस्ट्रेलिया से अभी भी 91 रन पीछे है। स्टम्प्स होने पर पुजारा के साथ रिद्धिमान साहा 18 रन पर नाबाद लौटे। पुजारा के अलावा लोकेश राहुल (67) और मुरली विजय (82) ने भी अर्धशतकीय पारियां खेलीं।

Cheteshwar Pujara, Cricket Experts Lauded Pujara Inning, Cheteshwar Pujara Century in Ranchi Test, Cricket News, Sports News, India vs Australia, India vs Australia Test Series, Sanjay Manjrekar, Bishan Singh Bediचेतेश्वर पुजारा ने रांची टेस्ट के तीसरे दिन शानदार बल्लेबाजी करते हुए अपने टेस्ट करियर का 11वां शतक जड़ा।(Photo: BCCI)

चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 130) ने अपनी जुझारू पारी के दम पर झारखंड राज्य क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन शनिवार का खेल खत्म होने तक आस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत को मैच में बनाए रखा है। आस्टेलिया के 451 रनों के विशाल स्कोर के सामने भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक अपनी पहली पारी में छह विकेट खोकर 360 रन बना लिए हैं। भारत, आस्ट्रेलिया से अभी भी 91 रन पीछे है। स्टम्प्स होने पर पुजारा के साथ रिद्धिमान साहा 18 रन पर नाबाद लौटे। पुजारा के अलावा लोकेश राहुल (67) और मुरली विजय (82) ने भी अर्धशतकीय पारियां खेलीं।

भारत ने दिन की शुरुआत तो अच्छी की और पहले सत्र में विजय के रूप में एक मात्र विकेट खोकर अपने खाते में 73 रन जोड़े। भोजनकाल से पहले की आखिरी गेंद पर विजय आउट हुए। इसके बाद कमिंस ने दूसरे सत्र में भारतीय कप्तान विराट कोहली (6) और अंजिक्य रहाणे (14) के बाद तीसरे सत्र में रविचंद्रन अश्विन (3) और जोस हाजलेवुड ने तीसरे सत्र में ही करुण नायर (23) को आउट कर भारत को परेशानी में डाल दिया। लेकिन एक छोर संभाले खड़े पुजारा पर न कमिंस, हाजलेवुड की तेज गेंदों का असर हुआ न ही नाथन लॉयन और स्टीव ओकीफी की फिरकी का। वह दिन का खेल खत्म होने तक मेहमानों के लिए सबसे बड़ी चुनौती बनकर खड़े रहे। तीसरे सत्र में दो विकेट गिर जाने के बाद भारत मुश्किल में था तथा एक और विकेट उसे गहरे संकट में डाल सकता था लेकिन साहा ने पुजारा का साथ दिया और भारत को बैकफुट पर जाने से रोका।

दोनों के बीच अभी तक 32 रनों की साझेदारी हो चुकी है। तीसरे सत्र में भारतीय बल्लेबाजों ने बिना किसी जोखिम के बल्लेबाजी की और महज 57 रन जोड़े। भोजनकाल तक भारत ने दो विकेट के नुकसान पर 193 रन बनाए थे। दूसरे सत्र में मेजबानों ने 110 रन जोड़े। भोजनकाल के बाद खेलने उतरी मेजबान टीम को अपने कप्तान कोहली से काफी उम्मीदें थीं। फील्डिंग के दौरान कंधे में चोट लगने के बाद विराट मैदान से दूर थे। बल्लेबाजी करने आए कप्तान ज्यादा कुछ नहीं कर पाए। वह ओकीफी की गेंद पर ड्राइव करने गए लेकिन गेंद बल्ले का बाहरी किनारा लेकर दूसरे स्लिप में गई जहां आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ ने उनका शानदार कैच पकड़ा।

रहाणे लय पकड़ने की कोशिश कर रहे थे तभी कमिंस की बाउंस को भांपने में गलती कर बैठे और खराब शॉट खेलकर विकेट के पीछे मैथ्यू वेड के हाथों लपके गए। इसके बाद नायर ने क्रीज पर कदम रखा। दूसरे छोर पर खड़े पुजारा ने 94वें ओवर की चौथी गेंद पर कमिंस पर चौका मार अपना शतक पूरा किया। यह इस श्रृंखला में किसी भी भारतीय बल्लेबाज द्वारा लगाया गया पहला शतक है। आस्ट्रेलिया की ओर से पैट कमिंस ने चार विकेट लिए हैं जबकि स्टीव ओकीफ और जोस हाजलेवुड को एक-एक सफलता मिली है। इससे पहले अपने पहले दिन के स्कोर एक विकेट पर 120 रनों से आगे खेलने उतरी भारतीय टीम ने शनिवार को पहले सत्र में एक विकेट खोकर अपने खाते में 73 रन जोड़े। पहले दिन राहुल के आउट होने के बाद भारत को अच्छी स्थिति में पहुंचाने वाली विजय और पुजारा की जोड़ी ने इस सत्र में भी अच्छी बल्लेबाजी की। अपने करियर का 50वां टेस्ट मैच खेल रहे विजय ने 50वें ओवर की पहली गेंद पर एक रन लेकर अपना 15वां अर्धशतक पूरा किया। शतक की ओर बढ़ रहे विजय ने ओकीफी की गेंद पर आगे बढ़कर मारने का प्रयास किया, लेकिन चूक गए और वेड ने उन्हें स्टम्पिंग करने में कोई गलती नहीं की।

Next Stories
1 रांची टेस्ट: चेतेश्वर पुजारा के संघर्ष ने AUS के अरमानों पर फेरा पानी, तीसरे दिन स्टंप तक IND का स्कोर 360-6
2 इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्रयू फ्लिंटाफ ने बांधे विराट कोहली की तारीफों के पुल
3 भारत के एक विकेट पर 120 रन, जडेजा ने झटके 5 विकेट