ताज़ा खबर
 

VIDEO: ‘बिना कर्फ्यू लगे लोग नहीं सुनेंगे’, शोएब अख्तर ने पाक पीएम से की देश को लॉक डाउन करने की मांग

Covid-19: पीएम मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का आह्वान किया था। उनके आह्वान पर जनता ने कोरोना वॉरियर्स के लिए ताली, थाली और घंटी भी बजाई। हालांकि, शायद पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लोग इस वायरस की भयानकता को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: March 23, 2020 1:13 PM
Shoaib Akhtarशोएब अख्तर ने कोरोना वायरस को गंभीरता से नहीं लेने वाले लोगों से कहा कि आप अपने साथ-साथ दूसरों की भी जान खतरे में डाल रहे हैं। (सोर्स -स्क्रीनशॉट)

Covid-19: कोरोना वायरस की चेन टूटे इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार यानी 22 मार्च 2020 को जनता कर्फ्यू का आह्वान किया था, जो लगभग पूरी तरह सफल रहा। उनके आह्वान पर जनता ने कोरोना वॉरियर्स के लिए ताली, थाली और घंटी भी बजाई। हमारे देश की आबादी के हिसाब से हमने इस महामारी पर काफी हद तक नियंत्रण पा रखा है, लेकिन शायद पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लोग इस वायरस की भयानकता को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। तभी तो पाकिस्तान के दिग्गज क्रिकेटर रहे शोएब अख्तर को प्रधानमंत्री यानी इमरान खान से अपने देश को लॉक डाउन करने की मांग करनी पड़ी।

जी हां, अख्तर ने कुछ घंटों पहले अपने यूट्यूब चैनल पर जिस तरह से अपील की है, उसे देखकर तो यही लगता है कि कोरोना वायरस को लेकर पाकिस्तान में ज्यादातर लोग गंभीर नहीं हैं। अख्तर ने अपने चैनल पर कहा, ‘पाकिस्तान कोरोन वायरस की स्टेज 2 में डाल दिया गया है। मैं अभी बहुत जरूरी काम से बाहर गया था। गाड़ी बंद थी। शीशे बंद थे। मैंने किसी से भी हाथ नहीं मिलाया और न ही किसी को गले लगाया। मैं दूर-दूर से ही काम करके आ गया जल्दी से।’

हालांकि, इसके आगे जो उन्होंने कहा वह वाकई चौंकाने वाला था। अख्तर ने कहा, ‘मैंने एक अजीब से बात देखी। मैंने 4-4 लड़कों को मोटरसाइकिल पर बैठे हुए देखा। वे जा रहे हैं। वे पिकनिक मना रहे हैं। एकसाथ बैठकर खाना खा रहे हैं। मेरी समझ में नहीं आ रही है कि आप लोग कर क्या रहे हैं। लोग घर मिलने आ रहे हैं। क्यों घर मिलने आ रहे हैं। कोई भी कोरोना पीड़ित हुआ, वह आपके घर में वायरस छोड़कर चला जाएगा और पूरी फैमिली बीमार हो जाएगी।’

उन्होंने कहा, ‘रावलपिंडी से भी खबरें आ रही हैं कि रात 10 बजे तक रेस्टोरेंट बंद नही हुए। हिंदुस्तान में कर्फ्यू लगा हुआ है। लोगों ने खुद ही अपने आप पर कर्फ्यू लगा लिया है। लेकिन हमारे यहां लोग घूम ही रहे हैं। मुझे समझ ही नहीं आ रहा कि यहां लोग घर बैठने के तैयार ही नहीं हैं। ये आप लोग क्या कर रहे हो? यह तो सरासर कत्लेआम है। ये तो आप लोगों की जानों के साथ खेल रहे हो। अपने साथ भी खेल रहे हो। आपके बीवी-बच्चे हैं। आप किसी की जान की फिक्र ही नहीं कर रहे हो।’

उन्होंने पाकिस्तान की सरकार से मांग करते हुए कहा, ‘इन लोगों ने यह बात आपकी नहीं सुननी है। आप कड़ी कार्रवाई कीजिए। यहां पर लॉक डाउन शुरू कीजिए। मैं बड़े दुख के साथ यह बात कह रहा हूं कि लोग बात नहीं सुन रहे। ये वायरस इतनी जल्दी जाने वाला नहीं है। मेरी पाकिस्तान सरकार से गुजारिश की है कि प्लील लॉक डाउन द सिटी, लॉक डाउन द पंजाब, प्लीज लॉक डाउन। यह महत्वपूर्ण है। इटली ने बहुत देर कर दी लॉक डाउन करने में और वहां आज मृतकों की संख्या 5 हजार पहुंचने वाली है। इसलिए मैं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से गुजारिश करता हूं कि लोग यहां नहीं बात सुनेंगे, आप कर्फ्यू लगाएं। 144 लागू करें। लॉक डाउन करें।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Coronavirus Updates: ‘जिंदगी रही तो ही ओलंपिक खेल पाएंगे’, खेल रत्न रेसलर ने दी टोक्यो ओलंपिक्स को टालने की सलाह
2 कोरोना वायरस के खौफ से कनाडा का टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लेने से इंकार, अमेरिका-फ्रांस ने भी की टूर्नामेंट टालने की मांग
3 IPL 2020: टूर्नामेंट रद्द होने से 9 देशों के खिलाड़ियों को 606 करोड़ का चूना, भारतीयों को लगेगी 350 करोड़ से ज्यादा की चपत