ताज़ा खबर
 

CWG 2018: मिश्रित टीम स्पर्धा के फाइनल में भारत

साइना नेहवाल के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारत ने राष्ट्रमंडल खेलों में बैडमिंटन मिश्रित टीम स्पर्धा के सेमी फाइनल में रविवार को सिंगापुर को 3-1 से हरा दिया।

Author गोल्ड कोस्ट | April 9, 2018 03:55 am
जीत के बाद साइना ने कहा कि हमसे फाइनल में पहुंचने की अपेक्षा थी। मैंने कभी नहीं सोचा था कि सिंगापुर से हमें ऐसी चुनौती मिलेगी।

साइना नेहवाल के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारत ने राष्ट्रमंडल खेलों में बैडमिंटन मिश्रित टीम स्पर्धा के सेमी फाइनल में रविवार को सिंगापुर को 3-1 से हरा दिया। भारत के लिए यह ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेल 2014 में कांस्य पदक के प्लेऑफ मुकाबले में सिंगापुर से 2-3 से मिली हार का बदला था। पिछले चार दिन में पांचवां मैच खेल रही साइना ने सिंगापुर की जिया मिन यिओ को 21-8, 21-15 से हराया।

जीत के बाद साइना ने कहा कि हमसे फाइनल में पहुंचने की अपेक्षा थी। मैंने कभी नहीं सोचा था कि सिंगापुर से हमें ऐसी चुनौती मिलेगी। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि मैं यह मैच जीतकर भारत को फाइनल तक ले जाने में मदद कर सकी। मुकाबले की शुरुआत मिश्रित युगल में सात्विक रांकिरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा ने योंग केइ टैरी ही और जिया यंग क्रिस्टल वोंग के खिलाफ की। भारतीय जोड़ी ने कड़ी चुनौती का सामना करके 22-20, 21-18 से जीत दर्ज की।

सिंगापुर ने ग्लास्गो खेलों में टीम स्पर्धा का कांस्य पदक जीता था। पुरुष युगल मुकाबले में टैरी ही और डैनी बावा क्रिस्टियाना ने सात्विक और चिराग शेट्टी को 17-21, 21-19, 21-12 से हराकर वापसी की। के श्रीकांत ने कीन यू लो को 21-17, 21-14 से हराकर भारत को बढ़त दिलाई। उसने कहा कि पहला सेट जीतना हमेशा अच्छा होता है। इससे दूसरे सेट में आत्मविश्वास बढता है।अश्विनी ने कहा कि पिछली बार हम टीम के रूप में उतना बुरा नहीं खेले थे लेकिन हमारे पास मिश्रित युगल में टीम नहीं थी। इस बार हम पांचों वर्गों में पूरी तैयारी के साथ आए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App