ताज़ा खबर
 

अब अलग-अलग ट्रेनिंग करती हैं साइना नेहवाल और पीवी सिंधु, सामने आई ये बड़ी वजह

कोच गोपीचंद दो अलग-अलग अकाडेमी में अलग-अलग समय पर दोनों खिलाड़ियों को अलग-अलग प्रशिक्षण देते हैं। उन्होंने कहा है कि हमलोग वहीं करते हैं जो खिलाड़ी चाहते हैं।

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और पीवी सिंधू।

इसमे कोई शक नहीं है कि साइना नेहवाल और पीवी सिंधू भारतीय बैडमिंटन की शान हैं। इन दोनों ही खिलाड़ियों ने कई अहम मौकों पर देश के लिए मान बढ़ाने का काम किया है। साइना नेहवाल और पीवी सिंधू के इस बेमिसाल सफलता के पीछे उनकी कड़ी मेहनत के अलावा उनके कोच पुलेला गोपीचंद का भी हाथ है। पुलेला लंबे समय से देश के सबसे बेहतरीन बैडमिंटन कोच की लिस्ट में शुमार हैं। भारतीय महिला खिलाड़ियों ने भी कई बार अपने कोच को बेहतरीन प्रशिक्षण देने के लिए धन्यवाद किया है। दोनों ही खिलाड़ियों ने गोपीचंद के प्रशिक्षण में कॉमनवेल्थ गेम्स के अलावा सुपर सीरिज टाइटल में धमाल मचाया है।

लेकिन टाइम्स ऑफ इंडिया के एक रिपोर्ट के मुताबिक देश की ये दोनों बेहतरीन महिला बैडमिंटन खिलाड़ी एक साथ अब ट्रेनिंग नहीं लेते। कोच गोपीचंद ने टाइम्स ऑफ इंडिया को इस बारे में बतलाया कि  दरअसल 2018 में गोल्डकोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान साइना नेहवाल ने स्वर्ण पदक के लिए हुए एक बेहद ही अहम मुकाबले में पीवी सिंधू को शिकस्त दे दी थी। जिसके बाद दोनों ही खिलाड़ियों ने आपस में यह तय किया कि अब वो एक साथ प्रशिक्षण नहीं लेंगी। खिलाड़ियों की इच्छा के अनुसार दोनों ही खिलाड़ी अब अलग-अलग जगहों पर ट्रेनिंग लेते हैं।

कोच गोपीचंद दो अलग-अलग अकाडेमी में अलग-अलग समय पर दोनों खिलाड़ियों को अलग-अलग प्रशिक्षण देते हैं। उन्होंने कहा है कि हमलोग वहीं करते हैं जो खिलाड़ी चाहते हैं।हालांकि इन दो चोटी के खिलाड़ियों का अलग-अलग प्रशिक्षण लेने पर कई लोग इस बात का अंदाजा भी लगाने लगते हैं कि दोनों ही खिलाड़ियों के बीच सबकुछ ठीक नहीं है। लेकिन ऐसी कोई बात नहीं है। कॉमनवेल्थ गेम्स से लौटने के बाद पीवी सिंधु ने साइना नेहवाल के साथ अपने मुकाबले के बारे में कहा था कि यह खेल (स्पोर्ट्स) के लिए अच्छा है कि हमारे बीच मुकाबला हुआ और कोर्ट पर जीत के लिए होड़ मची।

इसलिए वो (साइना नेहवाल) खुद के लिए जीतना चाहती थी और मैं अपने लिए। हमलोग एक आम इंसान हैं। हमलोग अलग-अलग शिड्यूल में ट्रेनिंग करते हैं। कोच गोपीचंद हम सभी के करियर के लिए एक बेहतरीन रोल अदा कर रहे हैं। सुबह से लेकर शाम तक वो हमें प्रशिक्षण देने में लगे रहते हैं। इस ट्रेनिंग के लिए उन्होंने भी बहुत कड़ी मेहनत की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App