ताज़ा खबर
 

चाइनीज खिलाड़ी ने विजेंदर सिंह को ललकारा, कहा- हमने बार-बार भारत को बताया है कि चीन क्या कर सकता है

दोनों खिलाड़ियों के बीच यह डबल खिताबी मुकाबला है। इस मुकाबले में डब्ल्यूबीओ एशिया पैसिफिक सुपर मिडिलवेट चैम्पियन विजेंदर और डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट चैम्पियन जुल्पीकार के मौजूदा खिताब दांव पर होंगे।

Author August 1, 2017 6:20 PM
जुल्पिकार मैमैतियाली और विजेंदर कुमार।

आगामी शनिवार को भारत के शीर्ष पेशेवर मुक्केबाज विजेंदर सिंह और चीन के जुल्पिकार मैमैतियाली रिंग में एक दूसरे के सामने होंगे, लेकिन इससे पहले ही दोनों के बीच शब्दों की लड़ाई शुरू हो गई है। बीजिंग ओलम्पिक-2008 में कांस्य पदक जीतने वाले विजेंदर ने सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी में हुए एक कार्यक्रम में चीनी मुक्केबाज पर तंज कसते हुए कहा था, “मैं जल्दी मुकाबला खत्म करने की कोशिश करूंगा क्योंकि चाइनीज माल ज्यादा देर तक चलते नहीं हैं।”

इस पर चीन के मुक्केबाज ने पलटवार करते हुए कहा है कि आने वाले मुकाबले में वह विजेंदर को बताएंगे की चीन के लोग क्या कर सकते हैं। डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल सुपरमिडिलवेट चैम्पियन जुल्पिकार ने एक बयान में कहा, ‘मैं विजेंदर को बताऊंगा की चीन के लोग कितने सक्षम हैं। हमने बार-बार भारत को बताया है कि चीन क्या कर सकता है।’

इस खिलाड़ी ने आगे कहा कि ‘समय आ गया है कि विजेंदर को सबक सिखाया जाए। मैं तुम्हारे घर में पांच अगस्त को आ रहा हूं विजेंदर और मैं तुम्हारा बेल्ट भी अपने बेल्ट के साथ ले जाऊंगा। मैं शुरुआती राउंड में ही तुम्हे नॉक आउट करूंगा।’

दोनों खिलाड़ियों के बीच यह डबल खिताबी मुकाबला है। इस मुकाबले में डब्ल्यूबीओ एशिया पैसिफिक सुपर मिडिलवेट चैम्पियन विजेंदर और डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट चैम्पियन जुल्पीकार के मौजूदा खिताब दांव पर होंगे। जो यह मुकाबला जीतेगा वह अपने खिताब की रक्षा करेगा साथ ही अपने प्रतिद्वंद्वी के खिताब को भी अपने साथ ले जाएगा। इस मुकाबाले को बैटलग्राउंड एशिया का नाम दिया गया है।

अपनी तैयारी पर चीन के खिलाड़ी ने कहा, “मैं इस लड़ाई के लिए पूरी तरह से तैयार हूं। यह मेरे करियर का बड़ा मुकाबला होगा क्योंकि मेरी नजरें अपने करियर में दूसरे खिताब पर हैं। मैं नहीं समझता की विजेंदर मेरे सामने खड़े भी हो पाएंगे। वह समझते हैं कि मैं बच्चा हूं, लेकिन मैं उन्हें बताऊंगा कि बच्चा किस चीज से बना है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App