सागर राणा को अगवा करने खुद गया था सुशील कुमार? वीडियो वायरल होने के बाद खुले कई राज

दिल्ली की एक अदालत ने सुशील कुमार की पुलिस हिरासत शनिवार को चार दिन के लिए बढ़ा दी। अदालत ने सुशील को पूछताछ के लिए छह दिन की पुलिस हिरासत में भेजा था।

sushil kumar
सुशील कुमार और उनके साथियों ने छत्रसाल स्टेडियम की पार्किंग में सागर राणा की हत्या कर दी थी। (फोटो- twitter)

सागर राणा मर्डर केस में लगातार नए खुलासे हो रहे हैं। दो बार का ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार जेल में है। पहलवान सागर की हत्या का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उसमें सुशील रॉड से सागर को बेरहमी से मारते हुए दिखाई दे रहा है। इस वीडियो के सामने आने के बाद यह कहा जा रहा है कि क्या सागर को लाने को सुशील खुद गया था? उसने अपने से जूनियर पहलवान को मारने के लिए क्रूरता की सारे हदें पार कर दी।

वीडियो सबूत के अलावा एक चीज और सामने आई है। वो है पुलिस की केस डायरी की कहानी। इस केस डायरी की मुताबिक 4 और 5 मई की रात सुशील कुमार और उसके लोगों ने सबसे पहले सागर धनखड़ (सागर राणा) के दोस्त को उठाया। उससे सागर का पता मिला। फिर मॉडल टाउन गए। वहां से सागर को उठा लेकर छत्रसाल स्टेडियम लेकर आए। सागर के साथ मारपीट के सिर्फ एक ही नहीं कई वीडियो बनाए गए थे। एक सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है तो कई पुलिस के पास हैं। कुछ को फॉरेंसिक जांच में सही पाया गया है।

सागर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से बड़ा खुलासा है। उसके सिर से घुटने तक चोटें लगी थीं। सुशील के खिलाफ वीडियो ही सबसे बड़ा सबूत है। सुशील के साथ कई गुंडे और गैंगस्टर ने सागर की पिटाई की है। प्रिंस कुमार रिवॉल्वर के साथ वहां था। वह पुलिस के डर से छिपा था, लेकिन पकड़ा गया। दिल्ली की एक अदालत ने सुशील कुमार की पुलिस हिरासत शनिवार को चार दिन के लिए बढ़ा दी। अदालत ने इससे पहले सुशील को पूछताछ के लिए छह दिन की पुलिस हिरासत में भेजा था।

हिरासत की अवधि समाप्त होने पर सुशील कुमार को शनिवार को अदालत में पेश किया गया। मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट मयंक गोयल ने कहा, ‘‘न्याय के हित में मैं केवल चार दिन के लिए पुलिस की अर्जी को मंजूरी देना उचित समझता हूं।’’ पुलिस ने सुशील कुमार की सात दिन की हिरासत मांगी थी।

अपडेट