ताज़ा खबर
 

चेतेश्वर पुजारा का जबरदस्त धमाका, किया ऐसा कारनामा कि सारे भारतीय क्रिकेटर रह गए पीछे

इससे पहले सबसे अधिक दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड विजय मर्चेंट के नाम था। उन्होंने अपने करियर में 11 दोहरा शतक लगाया था।

चेतेश्वर पुजारा

रणजी ट्रॉफी के नए सीजन में अब तक फ्लॉप रहे टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में नया इतिहास रच दिया है। फॉर्म में लौटे सौराष्ट्र के कप्तान पुजारा झारखंड के खिलाफ ग्रुप बी के मुकाबले में 204 रनों की पारी खेलते ही सबसे अधिक दोहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए। इस दोहरे शतक के साथ पुजारा ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में अपने दोहरे शतक की संख्या को 12 तक पहुंचा दिया है जो कि नया रिकॉर्ड है। अब तक किसी भी भारतीय बल्लेबाज ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 12 दोहरा शतक नहीं लगाया था। इससे पहले सबसे अधिक दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड विजय मर्चेंट के नाम था। उन्होंने अपने करियर में 11 दोहरा शतक लगाया था। 70 साल के बाद पुजारा ने इस नए रिकॉर्ड को अपने नाम किया है।

सौराष्ट्र के कप्तान पुजारा ने अपनी पारी में 355 गेंदों का सामना किया और 28 चौके लगाए। इस पारी के साथ पुजारा ने श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले अपनी धमक दिखा दी है। पुजारा की इस पारी से चयनकर्ता भी काफी खुश होंगे क्योंकि काउंटी क्रिकेट और रणजी के शुरुआती मैचों में पुजारा के बल्ले से कोई बड़ा स्कोर नहीं निकला था। सौराष्ट्र के लिए पुजारा के अलावा चिराग जानी ने 108 रन की पारी खेली। इन दोनों ने छठे विकेट के लिये 210 रन की साझेदारी की जिससे सौराष्ट्र ने अपनी पहली पारी नौ विकेट पर 553 रन बनाकर समाप्त घोषित की।

बड़े स्कोर के जवाब में झारखंड की शुरूआत अच्छी नहीं रही और उसने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 52 रन बनाए हैं। झारखंड अभी सौराष्ट्र से 501 रन पीछे है। सौराष्ट्र की तरफ से दोनों विकेट जयदेव उनादकट ने लिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App