ताज़ा खबर
 

टी-20 में टेस्ट क्रिकेट के एक्सपर्ट चेतेश्वर पुजारा का जलवा, लगा दिया शतक

पुजारा ऐसे चौथे भारतीय बल्लेबाज हैं जिसने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 300+, लिस्ट ए क्रिकेट में 150+ रन और टी-20 में शतक बनाया है। पुजारा से पहले ये कारनामा वीरेंदर सहवाग, रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल ने किया है।

चेतेश्वर पुजारा (REUTERS)

भारतीय क्रिकेट टीम की नई दीवार चेतेश्वर पुजारा मौजूदा समय के शानदार टेस्ट बल्लेबाजों में से एक हैं। पुजारा ने पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया दौरे में यह साबित भी किया है। पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की पहली टेस्ट सीरीज जीत में अहम भूमिका अदा की। उन्होंने 4 मैच की 7 पारियों में 3 शतकीय पारियों की मदद से 74.42 की औसत से 521 रन बनाये। सिडनी में खेले गए सीरीज के चौथे और आखिरी टेस्ट मैच में उन्होंने 193 रन की धमाकेदार पारी खेली। इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच और सीरीज में शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।

वैसे तो पुजारा भारतीय टेस्ट टीम के नियमित सदस्य है। लेकिन अभी तक उन्हें भारत की वनडे और टी-20 टीम की ओर से खेलने का मौका नहीं मिला है। इसकी सबसे बड़ी वजह है पुजारा की बल्लेबाजी शैली में आक्रामकता की कमी यानी वह अपनी धीमी बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। यही कारण है कि पुजारा को टेस्ट का तो बेहतरीन बल्लेबाज माना जाता है। लेकिन जब बात सीमित ओवरों के क्रिकेट की आती है, तो चयनकर्ता उन्हें नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन अब पुजारा ने इस बात को गलत साबित कर दिया है।

चेतेश्वर पुजारा ने गुरुवार को इंदौर में सौराष्‍ट्र की ओर से सैयद मुश्‍ताक अली टी-20 ट्रॉफी में धुआंधार शतक जड़ इस बात को गलत साबित कर दिया है कि वह एक धीमे बल्लेबाज है। पुजारा ने रेलवे के खिलाज महज 61 गेंदों में अपना शतक पूरा किया और अंत तक नाबाद रहे। पुजारा ने अपने पहले 50 रन 29 गेंदों में पूरे किए, जबकि अगले 50 रन 32 गेंदों में पूरे किए। इस दौरान पुजारा का स्ट्राइक रेट 163.93 का रहा।

पुजारा की इस बेहतरीन पारी में 14 चौके और 1 छक्‍का भी शामिल था। इस शतक के साथ ही पुजारा टी-20 क्रिकेट में शतक जड़ने वाले सौराष्‍ट्र के पहले बल्‍लेबाज बन गए हैं। इसके अलावा पुजारा ऐसे चौथे भारतीय बल्लेबाज बन हैं जिसने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 300+, लिस्ट ए क्रिकेट में 150+ रन और टी-20 में शतक बनाया है। पुजारा से पहले ये कारनामा वीरेंदर सहवाग, रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल ने किया है। आपको बता दें कि मयंक अग्रवाल और पुजारा के ऐसे भारतीय हैं जिनके नाम भारतीय घरेलू टूर्नामेंट में फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 300, लिस्ट ए क्रिकेट में 150+ रन और टी-20 में शतक दर्ज है।

गौरतलब है कि आईपीएल 2019 की नीलामी में 50 लाख बेस प्राइज वाले चेतेश्वर पुजारा को खरीदने में किसी भी टीम ने दिलचस्पी नहीं दिखाई थी। पुजारा आईपीएल में आखिरी बार 2014 में किंग्स एलेवेन पंजाब की तरफ से खेलते नजर आए थे। आईपीएल में पुजारा के नाम 30 मैचों में 99 के स्ट्राइक रेट से 390 रन दर्ज हैं। ऐसे में पुजारा ने रेलवे के खिलाफ तूफानी शतक जड़ आईपीएल फ्रेंचाइजी को सोचने पर मजबूर कर दिया है कि वो क्रिकेट के छोटे फॉर्मेट में भी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App