ताज़ा खबर
 

पुजारा टेस्ट मैचों में किसी भी नंबर पर खेलने के लिये तैयार

चेतेश्वर पुजारा ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में टीम उन्हें जिस भी स्थान पर खेलने के लिये कहेगा वह उस पर बल्लेबाजी करने के लिये..

Author मुंबई | Updated: October 30, 2015 12:54 AM
(पीटीआई फोटो)

भारत ने जो आखिरी टेस्ट मैच खेला था उसमें भले ही उन्होंने शतक जड़ा लेकिन चेतेश्वर पुजारा ने गुरुवार को कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच नवंबर से मोहाली में शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच में टीम थिंक टैंक उन्हें जिस भी स्थान पर खेलने के लिये कहेगा वह उस पर बल्लेबाजी करने के लिये तैयार हैं।

पुजारा ने बोर्ड अध्यक्ष एकादश और दक्षिण अफ्रीका के बीच शुक्रवार से शुरू होने वाले दो दिवसीय अभ्यास मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘मैं (बल्लेबाजी) पोजीशन के बारे में नहीं जानता। एक बार जब मैं (मोहाली में) टीम से जुड़ जाऊंगा तो फिर मेरी कप्तान (विराट कोहली) और कोच (टीम निदेशक रवि शास्त्री) से बात होगी और वे मुझे बतायेंगे कि मेरे लिये वे किस नंबर के बारे में सोच रहे हैं। टीम की जरूरत के हिसाब से मैं उसके लिये तैयार रहूंगा।’’

पुजारा को नियमित सलामी बल्लेबाजों मुरली विजय और शिखर धवन के चोटिल होने के कारण श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में पारी का आगाज करने के लिये भेजा गया और उन्होंने नाबाद 145 रन की संयमित पारी खेलकर भारत को 117 रन से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभायी थी। उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया था।

ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट श्रृंखला में सौराष्ट्र के इस बल्लेबाज को अंतिम एकादश से हटा दिया गया था और वह श्रीलंका के खिलाफ पहले दो मैचों में नहीं खेले थे लेकिन जब उन्हें मौका मिलता तो उन्होंने उसका पूरा फायदा उठाया।

पुजारा ने कहा कि उन्हें नयी गेंद का सामना करने का अनुभव है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं कुल मिलाकर अधिकतर नंबर तीन पर बल्लेबाजी करता हूं और वहां पर कई बार स्थिति पारी का आगाज करने जैसी होती है। कई बार आपको नंबर तीन पर अधिक समय मिल जाता है और पहले विकेट के लिये साझेदारी बनने पर आप सहज होकर गेंदबाजों और विकेट का अंदाजा लगा सकते हो।’’

पुजारा ने कहा, ‘‘तीसरे नंबर पर खेलते रहने के कारण मुझे नयी गेंद का सामना करने का अनुभव है। तकनीकी रूप से मुझे अपनी बल्लेबाजी में ज्यादा बदलाव नहीं करने पड़ते हैं। इस तरह से मैं बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आने में सहज रहता हूं। मेरी तैयारियां अच्छी हैं। जिस किसी नंबर पर मुझे बल्लेबाजी के लिये कहा जाएगा मैं उसके लिये तैयार रहूंगा।’’

रणजी ट्रॉफी में पुजारा ने बहुत अधिक रन नहीं बनाये लेकिन इससे वह चिंतित नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘‘व्यक्तिगत तौर पर मैं आत्मविश्वास से भरा हूं। हम जिस तरह के विकेट पर खेले उस पर बल्लेबाजों और तेज गेंदबाजों के लिये अच्छा प्रदर्शन करना मुश्किल था। यदि मैंने बड़ा स्कोर नहीं बनाया तो मैं यह नहीं कहूंगा कि मैं फॉर्म में नहीं हूं। वे कम स्कोर वाले मैच थे।’’

पुजारा ने कहा, ‘‘यह अच्छी बात रही कि हमें टर्निंग विकेट मिले। ऐसे में आप उसी तरह से तैयारी कर सकते हो लेकिन मैं यह नहीं कह सकता कि उन विकेटों पर असफल रहने का मतलब यह है कि मैं दबाव में रहूंगा और मुझे अपनी तैयारियों में परेशानी आयी। मैं जानता हूं कि मुझे किसका सामना करना है और अपने अनुभव के आधार पर मुझे अच्छा प्रदर्शन करने का विश्वास है।’’

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करेंगूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X