ताज़ा खबर
 

कोच पर भड़के चेतन चौहान- रवि शास्‍त्री हटाए जाएं, कमेंटेटर हैं, वही रहें तो अच्‍छा

पूर्व टेस्ट क्रिकेटर चेतन चौहान ने टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री को हटाने की मांग की। उन्होंने कहा कि वे एक कमेंटेटर हैं और वही रहें तो अच्छा है।

Author September 17, 2018 12:08 PM
पूर्व क्रिकेटर और यूपी सरकार में मंत्री चेतन चौहान। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

पूर्व टेस्ट क्रिकेटर चेतन चौहान ने इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज में भारत को मिली 1-4 की हार के लिये रविवार को टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उन्हें नवंबर में आस्ट्रेलिया दौरे से पहले इस पद से हटा देना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे एक कमेंटेटर हैं और वही रहें तो अच्छा है। कोच के रूप में उनका प्रदर्शन संतोषजनक नहीं है। उत्तर प्रदेश के खेल मंत्री पूर्व क्रिकेटरों द्वारा शास्त्री को कोच पद से हटाने जाने की मांग पर सहमत हैं। उन्होंने कहा, ‘‘रवि शास्त्री को आस्ट्रेलिया दौरे से पहले हटा देना चाहिए। रवि शास्त्री बहुत ही अच्छे कमेंटेटर हैं और उन्हें ऐसा ही करने देना चाहिए। ’’

चौहान ने यहां पत्रकारों से कहा कि टीम इंडिया को बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए था। दोनों टीमें बराबरी की थीं। लेकिन भारतीय टीम इंग्लैंड के पुछल्ले बल्लेबाजों पर लगाम कसने में विफल रही। पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज ने शास्त्री के इस बयान की भी आलोचना की जिसमें उन्होंने विराट कोहली की अगुवाई वाली मौजूदा टीम को ‘विदेश का दौरा करने वाली सर्वश्रेष्ठ टीम’ करार दिया था। उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस बात से सहमत नहीं हूं। 1980 के दशक में भारतीय टीम विश्व का दौरा करने वाली सर्वश्रेष्ठ टीम थी। ’’ दुबई में एशिया कप क्रिकेट चैम्पियनशिप में भारत की संभावनाओं के बारे में चौहान ने कहा कि टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा मिश्रण है जिससे बेहतर नतीजे की उम्मीद है। चौहान से पहले पूर्व कप्तान सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग भी शास्त्री को हटाने की मांग कर चुके हैं।

बता दें कि क्रिकेटर चेतन चौहान 1969 से 1981 के बीच 40 टेस्ट मैच खेल चुके हैं। उन्होंने 40 मैचों में कुल 2084 रन बनाए। उन्होंने 1969 में मुंबई में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने टेस्ट कॅरिअर की शुरूआत की थी और ऑकलैंड में 1981 में उसी देश के खिलाफ अपना अंतिम टेस्ट खेला। इसके अलावा, चौहान ने सात एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय भी मैच खेले।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App