ताज़ा खबर
 

Champions Trophy 2017: आमिर सोहेल ने पाक‍िस्‍तानी कप्तान सरफराज अहमद को कहा- इतना मत इतराओ, हमें पता है किसी ने ज‍ितवाया है, देखें वीडियो

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 : पाकिस्तान ने अपने हरफनमौला खेल की बदौलत बुधवार को आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के पहले सेमीफाइनल मैच में मेजबान इंग्लैंड को आठ विकेटों से करारी मात देते हुए फाइनल में प्रवेश किया था।

वनडे में भारत-पाकिस्तान 128 बार आपस में भिड़ चुके हैं, जिसमें भारत 52 और पाकिस्तान 72 बार विजयी रहा।

भारत ने गुरुवार को चैंपियंस ट्रॉफी में बांग्लादेश को नौ विकेट से मात देकर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। यहां उसका सामना पाकिस्तान से होगा। ये मैच बेहद हाई वोल्टेज रहने वाला है लेकिन इससे पहले ही पाकिस्ता के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर आमिर सोहेल ने कप्तान सरफराज अहमद को लेकर बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि सेमीफाइनल में जीत पर पाकिस्तान को इतराना नहीं चाहिए।

पाकिस्तान ने अपने हरफनमौला खेल की बदौलत बुधवार को आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के पहले सेमीफाइनल मैच में मेजबान इंग्लैंड को आठ विकेटों से करारी मात देते हुए फाइनल में प्रवेश किया था। पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए इंग्लैंड को 49.5 ओवर में 211 रनों पर ही रोक दिया और इसके बाद इस आसान लक्ष्य को 37.1 ओवरों में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया।

इस जीत के बाद आमिर सोहेल ने कहा- ‘आप ये ना पूछ लीजिएगा कि मैच किसने जितवाए हैं। मैं यही जवाब दूंगा कि दुआओं ने और अल्लाह ने मैच जितवाएं हैं। जो बाशिंदे हैं, उनका नाम मैं नहीं लूंगा। उनको ये बताने की जरूरत है कि आपका कोई कमाल नहीं था। आपको यहां किसी वजह से लाया गया है। अब आप अपना दिमाग जरा बेहतर रखें। इतना ज्यादा सर पर चढ़ने की जरूरत नहीं है। हमें आपकी काबिलियत पता है। आप चुप करके क्रिकेट खेलें।’

बता दें कि वनडे में भारत-पाकिस्तान 128 बार आपस में भिड़ चुके हैं, जिसमें भारत 52 और पाकिस्तान 72 बार विजयी रहा। टी-20 का जिक्र करें तो 8 मुकाबलों में भारत ने 6 बार पड़ोसी मुल्क को हराया है, जबकि महज 1 मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में देखा जाए तो वनडे में पाकिस्तान अधिकांश मौकों में भारत पर भारी पड़ा है। हालांकि ये कोहली की ब्रिगेड अब किसी भी मैच को अपने पक्ष में करने का माद्दा रखती है।

कुंबले से खफा विराट पहले ही सचिन और लक्ष्मण को बता चुके थे अपना फेवरेट?, देखें वीडियो ...

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App