ताज़ा खबर
 

परिवार के विरोध के बावजूद इस एथलीट ने पहनी थी बिकिनी, हरभजन सिंह को कंधे पर उठाकर दिखाया था दम

5 साल लगातार आईटी कंपनी में नौकरी करने के बाद श्वेता ने फिटनेस की दुनिया में नाम कमाने के बारे में ठान लिया। 70 हजार की नौकरी छोड़ना किसी के लिए आसान बात नहीं है, लेकिन श्वेता ने अपने लक्ष्य को पाने के लिए इसे ठुकरा दिया।

श्वेता ने 2016 में जेराई वुमेन फिटनेस मॉडल चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया था। (सोर्स – सोशल मीडिया)

हरियाणा की ‘धाकड़’ बेटी श्वेता मेहता ने एमटीवी रोडीज राइजिंग-14 जीतकर तहलका मचा दिया था। उन्होंने उसी शो में मशहूर क्रिकेटर हरभजन सिंह को कंधे पर उठा लिया था। उसके बाद वो सुर्खियो में आ गई थीं। हरियाणा की फतेहाबाद की रहने वाली श्वेता रोडीज के अलाव फिटनेस चैंपियनशिप भी जीत चुकी हैं। उन्होंने 2016 में जेराई वुमेन फिटनेस मॉडल चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया था। दुनिया बेहतरीन फिटनेस एथलीट्स में श्वेता का नाम लिया जाता था।

भारत के दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह को कंधे पर उठाने के बाद श्वेता को रोडीज के मुख्य राउंड में जगह मिली थी। श्वेता के बारे में बहुत कम लोगों को पता है कि वो पेशे से एक इंजीनियर हैं। उन्होंने हिसार के गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (जीजेयू) से बीटेक किया था। पढ़ाई पूरी होने के बाद वो नौकरी करने के लिए बेंगलुरु चली गई थीं। 5 साल लगातार आईटी कंपनी में नौकरी करने के बाद उन्होंने फिटनेस की दुनिया में नाम कमाने के बारे में ठान लिया। 70 हजार की नौकरी छोड़ना किसी के लिए आसान बात नहीं है, लेकिन श्वेता ने अपने लक्ष्य को पाने के लिए इसे ठुकरा दिया।

नौकरी जाने का मतलब था कि दो दिन की छुट्टी अब नहीं मिलेगी। दोस्तों के साथ टाइम बिताने का ज्यादा मौका नहीं मिलेगा। नए क्षेत्र में करियर बनाने के लिए फिर से मेहनत करनी होगी। लगातार अभ्यास करना होगा। इसके लिए उनके परिवार वाले शुरू में तैयार नहीं थे, लेकिन काफी समझाने के बाद वो मान गए। फिर एक समस्या और सामने आई। बॉडी बिल्डिंग के लिए बिकिनी पहनना अनिवार्य था। इसके लिए परिवार के लोग नहीं मान रहे थे। परिवार के विरोध के बावजूद उन्होंने बिकनी पहनने का फैसला किया और बॉडी बिल्डर बनने की तैयारी शुरू कर दी।

बॉडी बिल्डर बनने के लिए महंगे प्रोटीन के सामान खाने पड़ते हैं। नौकरी जाने के बाद श्वेता के पास पैसों की कमी आई। उन्होंने प्रोटीन लेने के लिए सारी पू्ंजी लगा थी। पैसों की कमी पड़ी तो श्वेता ने बड़े घर को छोड़ दिया। वो छोटे घर में रहने लगी। उसी मेहनत का नतीजा है कि आज श्वेता का नाम दुनिया भर में लिया जाता है। इंस्टाग्राम पर उनके 4 लाख से ज्यादा फॉलोवर हैं। उन्होंने अब तक 1726 पोस्ट किए हैं। श्वेता सोशल मीडिया पर लगातार फिटनेस को लेकर वीडियो शेयर करती रहती हैं।

ref=”https://www.jansatta.com/khel/”>

Next Stories
1 US OPEN 2020: जापान की 22 साल की नाओमी ओसाका दूसरी बार चैंपियन बनीं, उम्र में 9 साल बड़ी अजारेंका को हराया
2 ‘धोनी को नहीं वीरेंद्र सहवाग को कप्तान बनाना चाहता था CSK’, चेन्नई सुपरकिंग्स के दिग्गज क्रिकेटर ने किया खुलासा
3 ‘टीम में चयन होने पर कोहली ने मारी थी लात, जहीर खान के जूते पहनकर खेला पहला टेस्ट’, इशांत शर्मा ने सुनाई थी डेब्यू की कहानी
ये पढ़ा क्या?
X