ताज़ा खबर
 

आस्कर पिस्टोरियस को 5 साल की जेल

प्रिटोरिया। दक्षिण अफ्रीका के पैरालंपिक स्टार धावक आस्कर पिस्टोरियस को अपनी गर्लफ्रेंड की हत्या के जुर्म में मंगलवार को पांच साल की जेल की सजा सुनाई गई। इस मुकदमे की सुनवाई के दौरान रोने और उल्टी करने वाले पिस्टोरियस सजा सुनाए जाने के समय स्तब्ध खड़े रहे। जज थोकोजिले मासिपा ने कहा कि गैर इरादतन […]
Author October 22, 2014 08:55 am
आस्कर पिस्टोरियस को अपनी गर्लफ्रेंड की हत्या के जुर्म में मंगलवार को पांच साल की जेल की सजा सुनाई गई। (फोटो: एपी)

प्रिटोरिया। दक्षिण अफ्रीका के पैरालंपिक स्टार धावक आस्कर पिस्टोरियस को अपनी गर्लफ्रेंड की हत्या के जुर्म में मंगलवार को पांच साल की जेल की सजा सुनाई गई। इस मुकदमे की सुनवाई के दौरान रोने और उल्टी करने वाले पिस्टोरियस सजा सुनाए जाने के समय स्तब्ध खड़े रहे। जज थोकोजिले मासिपा ने कहा कि गैर इरादतन हत्या के लिए पांच साल की सजा सुनाई जाती है। पिस्टोरियस को बंदूक रखने के जुर्म में तीन साल की निलंबित सजा भी सुनाई गई। ब्लेड रनर पिस्टोरियस को पिछले साल वेलेनटाइन डे पर रीवा स्टीनकेंप की हत्या के अधिक गंभीर आरोप से बरी कर दिया गया था।

 

पिस्टोरियस ने कहा था कि उसने स्टीनकेंप को चोर समझा जो घर के बाथरू म के रास्ते भीतर आ गया और उसने दरवाजा बंद कर लिया। इसी गलतफहमी में उसने चार गोलियां दाग दी थीं। इस मुकदमे की सुनवाई पर पूरी दुनिया का ध्यान था। चूंकि मंगलवार को सजा के बारे में घोषणा होनी थी, इसलिए सुबह से ही अदालत के बाहर मीडिया का जमावड़ा लगा हुआ था।

 

मासिपा ने कहा कि वे कठोर दंड, पुनर्वास और दूसरों को इस तरह की वारदात को अंजाम देने से हतोत्साहित करने के बीच संतुलन बनाना चाहती थीं। उन्होंने बचाव पक्ष के इस दावे को अस्वीकार कर दिया कि विकलांग एथलीट को जेल में कुछ विशेष तरह की परेशानियां पेश आ सकती हैं। उन्होंने कहा कि देश के लिए यह दुखद दिन होगा अगर यह धारणा बनाई गई कि गरीबों और वंचित वर्ग के लिए अलग और अमीर व मशहूर लोगों के लिए अलग कानून है।

 

पिस्टोरियस के अपराध की गंभीरता के बारे में जज ने कहा कि वह घोर लापरवाही का जिम्मेदार रहा है। मासिपा ने कहा कि धारदार हथियार, कारतूस भरी बंदूक का इस्तेमाल कर अभियुक्त ने एक नहीं बल्कि चार गोलियां दरवाजे के भीतर दागी। उन्होंने कहा कि टायलेट छोटा था और दरवाजे के पीछे खड़े व्यक्ति के लिए बचने का कोई रास्ता नहीं था। अभियोजन पक्ष ने उसे दस साल की कैद की सजा का अनुरोध किया था। जबकि बचाव पक्ष ने सामुदायिक सेवा और नजरबंदी की सजा देने का अनुरोध किया।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule