Bengaluru FC vs Mumbai City, ISL 2017 Football Score, Indian Super League at Star Sports Updates in Hindi: Bengaluru FC win by 2-0 - ISL 2017, बेंगलुरु FC vs मुंबई सिटी: Bengaluru FC ने दर्ज की 2-0 से जीत - Jansatta
ताज़ा खबर
 

ISL 2017, बेंगलुरु FC vs मुंबई सिटी: Bengaluru FC ने दर्ज की 2-0 से जीत

ISL 2017 Football: इस मैच में सुनील छेत्री आईएसएल की अपनी पुरानी टीम मुम्बई सिटी के खिलाफ खेलने उतरेंगे।

ISL 2017 Football: मैच के दौरान बेंगलुरु एफसी के खिलाड़ी।

बेंगलुरू एफसी ने रविवार को अपने घरेलू मैदान- कांतिरावा स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन के अपने पहले मैच में चार बार सेमीफाइनल खेल चुकी मुंबई सिटी एफसी को 2-0 से हरा दिया। भारतीय टीम के कप्तान सुनील छेत्री के नेतृत्व में खेल रही बेंगलुरू की टीम ने हालांकि एक बार भी यह जाहिर नहीं होने दिया कि वह भारत की सबसे प्रतिस्पर्धी फुटबाल लीग में पहली बार खेल रही है। वह पूरे मैच में लीग की सबसे सफल टीमों में एक मुम्बई सिटी एफसी के खिलाफ पर हावी रही और इसमें बीते सीजन में मुम्बई के लिए खेलने वाले और हैट्रिक लगाने वाले छेत्री का अहम योगदान था।

बेहतरीन फार्म में दिख रहे छेत्री ने न सिर्फ अपने साथियों को अच्छा खेलने के लिए प्रेरित किया बल्कि 93वें मिनट में अपनी टीम के लिए दूसरा गोल भी किया। बेंगलुरू के लिए पहला गोल 67वें मिनट में एडवडरे मार्टिन ने किया। मार्टिन ने यह गोल उदांता कुमाम सिंह के पास पर किया। हालांकि खाता खोलने के लिए बेंगलुरू को काफी पसीना बहाना पड़ा क्योंकि पहले हाफ में वह लगभग तीन मौकों पर गोल करने के करीब पहुंची थी लेकिन मुम्बई के डिफेंस ने उन्हें नाकाम कर दिया था।

पहले हाफ में कोई गोल तो नहीं हुआ था लेकिन बेंगलुरू एफसी ने इस हाफ में अपना क्लास दिखाया था। उनकी आक्रमण पंक्ति शानदार खेली थी लेकिन मुम्बई के डिफेंस ने कई मौकों पर बेहतरीन बचाव करते हुए उन्हें गोल नहीं कर दिया था। खासतौर पर मार्सियो रोजारियो और गेरसन विएरा ने बेहतरीन बचाव किए और फिर दूसरे हाफ में गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने बेंगलुरू को बढ़त लेने से रोका लेकिन 67वें मिनट में मार्टिन के तेज शॉट और पीला कार्ड पा चुके छेत्री की 93वें मिनट की कलाकारी के आगे वह कुछ नहीं कर सके।

मेजबान टीम ने पहले हाफ के 23वें मिनट में एक शानदार मूव बनाया था लेकिन कप्तान छेत्री बीते सीजन की अपनी टीम के खिलाफ गोल नहीं कर सके थे। चार मिनट बाद छेत्री ने एक बार फिर हमला बोला। इस बार वह अकेले मुम्बई के बॉक्स तक पहुंचे और गोल की ओर जोरदार किक लगाया लेकिन मुम्बई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने उसे सफाई से रोक लिया। छेत्री ने 41वें और 44वें मिनट में दो शानदार मूव बनाए लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली।

भारतीय फुटबाल के तमाम सम्मान हासिल करने वाली बेंगलुरू एफसी ने इसी साल हीरो आई-लीग से आईएसएल का रुख किया है और उसके सामने पहले ही मैच में एक ऐसी प्रतिद्वंद्वी टीम थी, जिसने आईएसएल की शुरुआत से अब तक बार-बार खुद को साबित किया है और घर से बाहर उसका प्रदर्शन बेहतरीन रहा है। बीते सीजन में मुम्बई ने घर से बाहर सिर्फ एक मैच गंवाया था लेकिन इन सब बातों का चार बार आई-लीग और एक बार एएफसी कप फाइनल खेल चुकी बेंगलुरू एफसी पर कोई असर नहीं हुआ और उसने लगभग एकतरफा अंदाज में जीत हासिल करते हुए नए लीग का जीत के साथ आगाज किया।

मुम्बई सिटी ने दूसरे हाफ में कुछ अच्छ मूव बनाए लेकिन बेंगलुरू की रक्षापंक्ति ने उन्हें नाकाम कर दिया। कोस्टा रिका के कोच एलेक्सजेंडर गुइमारेस की टीम को हालांकि 18वें मिनट में स्टार स्ट्राइकर लियोनाड्रो कोस्टा के बाहर जाने से झटका लगा था। कोस्टा हैमस्ट्रींग इंजुरी के कारण मैदान से बाहर चले गए थे।

मुकाबले का अंत बेंगलुरु बुल्स की 2-0 से जीत के साथ हुआ।

-सुनील छेत्री ने बेंगलुरु के लिए गोल दागा। मुंबई मुकाबले में 0-2 से पिछड़ता हुआ।

-बेंगलुरु एफसी के कप्तान सुनील छेत्री को येलो कार्ड दिखाया गया।

बेंगलुरु एफसी ने मुकाबले का पहला गोल दाग दिया है। मुंबई मैच में पिछड़ चुकी है।

-53वें मिनट तक भी कोई गोल नहीं हो सका है। हालांकि इस दौरान कुछ मौके जरूर बने मगर टीमें उसे भुना नहीं सकी।

-सुनील छेत्री ने मुकाबले के 23वें मिनट मौका बनाया मगर भाग्य ने साथ नहीं दिया। दोनों टीमें फिलहला कोई गोल नहीं दाग सकी है।

मुकाबला शुरू हो चुका है। पहले 4 मिनट तक कोई भी टीम गोल नहीं दाग सकी है। दर्शकों के बीच इस मैच को लेकर जबरदस्त उत्साह है।

-गुइमारेस ने बेंगलुरू के कुछ खिलाड़ियों का नाम लेते हुए कहा कि उनकी नजरें विपक्षी टीम के चुनिंदा खिलाड़ियों पर होंगी। हालांकि उन्होंने पहले कहा था कि मुंबई के प्रशंसकों को अलग मानसिकता देखने को मिलेगी क्योंकि लंबा सीजन होने के नाते उन्हें अपनी रणनीतियों पर काम करने का मौका मिलेगा।

-कोस्टा रिका के गुइमारेस ने कहा कि पिछले सीजन में जिस शैली से खेले थे वह विदेशी खिलाड़ी और स्थानीय खिलाड़ियों के बीच बनाए गए संतुलन से हासिल हुई थी और इसी कारण टीम ने काफी कुछ हासिल किया था।

-गुइमारेस की टीम ने पिछले सीजन में शानदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने लीग दौर का अंत शीर्ष स्थान के साथ किया था और सिर्फ आठ गोल खाए थे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App