कश्मीर प्रीमियर लीग में इंग्लैंड के क्रिकेटर्स नहीं खेलेंगे, पाकिस्तान की चाल नाकाम करने को BCCI ने उठाया यह कदम

बीसीसीआई और ईसीबी के रिश्ते काफी दोस्ताना हैं। इसी का नतीजा है कि बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंधित महिला क्रिकेटर्स को इंग्लैंड में चल रही महिला द हंड्रेड प्रतियोगिता में हिस्सा लेने की मंजूरी मिली है।

BCCI ECB Kashmir Premier League POK PCB
बीसीसीआई के मुताबिक, ईसीबी ने भारतीय बोर्ड को आश्वस्त किया है कि उनके खिलाड़ी पीसीबी की कश्मीर प्रीमियर लीग में नहीं खेलेंगे।

इंग्लैंड के क्रिकेटर्स के कश्मीर प्रीमियर लीग (केपीएल) का हिस्सा होने की संभावना नहीं है। बीसीसीआई के एक पदाधिकारी ने द इंडियन एक्सप्रेस को यह जानकारी दी है। बीसीसीआई पदाधिकारी के मुताबिक, इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने बोर्ड को आश्वासन दिया है कि उनके खिलाड़ी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में 6 अगस्त से कराए जाने वाले टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं होंगे।

उधर, ईएसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी पाकिस्तान के मंसूबों को नाकाम करने के लिए कदम उठाया है। उसने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) को लिखे पत्र में कश्मीर प्रीमियर लीग को मान्यता नहीं देने की बात कही है। पाकिस्तान बोर्ड ने शनिवार को पीसीबी के आंतरिक मामलों में दखल देने की बीसीसीआई की कोशिशों पर नाखुशी जाहिर की थी। अब यह सामने आया है कि बीसीसीआई ने भी आईसीसी से संपर्क किया है।

बीसीसीआई की शिकायत का आधार कश्मीर की मौजूदा स्थिति है। बीसीसीआई ने अपने पत्र में दलील दी है कि क्या ऐसी जगह पर क्रिकेट मैच का आयोजन किया जा सकता है जो दोनों देशों के बीच लंबे समय से विवाद का केंद्र रहा हो। बीसीसीआई पदाधिकारी ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, ‘हां, ईसीबी ने हमसे कहा है कि वे अपने किसी भी खिलाड़ी को पीओके लीग के लिए रिलीज नहीं कर रहे हैं।’

भारतीय बोर्ड अन्य बोर्डों से भी इसी तरह की प्रतिक्रिया की उम्मीद कर रहा है। यह बात तब सामने आई है, जब एक दिन पहले बीसीसीआई ने पीओके में टूर्नामेंट का विरोध करते हुए कहा था कि वह भारत सरकार के रुख का पालन कर रहा है।

बीसीसीआई के एक पदाधिकारी ने शनिवार को कहा था, ‘हमें पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) खेलने वालों से कोई समस्या नहीं है, लेकिन यह लीग पीओके में आयोजित हो रही है। हम अपनी सरकार की लाइन पर चल रहे हैं।’

बता दें कि बीसीसीआई और ईसीबी के रिश्ते काफी दोस्ताना हैं। इसी का नतीजा है कि बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंधित महिला क्रिकेटर्स को इंग्लैंड में चल रही महिला द हंड्रेड प्रतियोगिता में हिस्सा लेने की मंजूरी मिली है।

यह भी पता चला है कि अगले साल से कुछ भारतीय पुरुष खिलाड़ियों को भी पुरुषों के द हंड्रेड का हिस्सा बनने की मंजूरी देने के लिए दोनों बोर्डों के बीच बातचीत चल रही है। हालांकि, इस बारे में बीसीसीआई ने अभी कोई फैसला नहीं लिया है।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट