ताज़ा खबर
 

BCCI ने सरकार से मांगी इंडिया पाक सीरीज पर अनुमति

बीसीसीआइ ने दिसंबर में श्रीलंका में पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज खेलने के लिए केंद्र सरकार से आधिकारिक तौर पर स्वीकृति मांगी है।

बीसीसीआइ ने दिसंबर में श्रीलंका में पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज खेलने के लिए केंद्र सरकार से आधिकारिक तौर पर स्वीकृति मांगी है। बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर ने इसकी पुष्टि की। अब गेंद भारत और पाकिस्तान की सरकारों के पाले में है क्योंकि बीसीसीआइ और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड दोनों को अपनी सरकारों से अगले महीने होने वाली सीरीज के लिए स्वीकृति का इंतजार है।

ठाकुर ने कहा, मैंने विदेश मंत्रालय को पत्र खिलकर श्रीलंका में पाकिस्तान से शृंखला खेलने की स्वीकृति मांगी है। उन्होंने कहा, भारत और पाकिस्तान के बीच हुए करार के अनुसार, पाकिस्तान में हालात उपयुक्त नहीं होने पर दोनों टीमों को यूएई या किसी अन्य तटस्थ स्थान पर खेलना था। यह पाकिस्तान पर निर्भर है कि वे कहां खेलना चाहते हैं। बीसीसीआइ और पीसीबी के बीच चर्चा के बाद दोनों देशों ने श्रीलंका में खेलने का फैसला किया है।

पीसीबी को भी सरकार से स्वीकृति का इंतजार है और उसके प्रमुख शहरयार खान को उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नवाज शरीफ जल्द फैसला करेंगे। शहरयार ने कहा, यह सरकार के हाथ में है। निजी तौर पर मुझे नहीं पता कि स्वीकृति देने में कितना समय लगेगा। फिलहाल प्रधानमंत्री यात्रा पर हैं इसलिए वे वापस आने पर फैसला करेंगे। हमें इंतजार करना होगा।
इस बीच कराची से मिली खबर के अनुसार, भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज दो हिस्सों में खेली जा सकती है। इसके सीमित ओवरों के मैचों का आयोजन अगले महीने श्रीलंका में तो टैस्ट मैच अगले साल इंग्लैंड में हो सकते हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि बीसीसीआइ अध्यक्ष शशांक मनोहर और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख शहरयार खान के बीच दुबई में बैठक के दौरान इस पर सहमति बनी। इसकी आधिकारिक घोषणा अभी की जानी है।

पाकिस्तान की अंतर प्रांतीय समन्वय मंत्रालय के सूत्रों ने कहा, पीसीबी अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और विदेश मंत्रालय से भारत के खिलाफ सीमित ओवरों की शृंखला श्रीलंका में खेलने की अनुमति मांगी है। उन्होंने इसके साथ ही संकेत दिए कि भारत अगले साल पाकिस्तान के खिलाफ कुछ टैस्ट मैच खेलने का भी इच्छुक है।
सूत्रों ने कहा, योजना है कि पाकिस्तान 2017 में पूर्णकालिक सीरीज के लिए भारत का दौरा करेगा जबकि इससे पहले भारत दो चरणों में सीरीज खेलेगा। संकेत मिल रहे हैं कि टैस्ट मैचों का आयोजन गर्मियों में इंग्लैंड में किया जाएगा।

पाकिस्तान को जुलाई से इंग्लैंड का दौरा करना है। उसने 2010 में भी आस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टैस्ट मैच लार्ड्स और हैंडिंग्ले में खेले थे। पीसीबी के एक अन्य सूत्र ने कहा कि इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष जाइल्स क्लार्क ने इंग्लैंड में टैस्ट मैचों के आयोजन का विचार रखा। मनोहर और शहरयार के बीच बातचीत में क्लार्क मध्यस्थ की भूमिका निभा रहे थे।
सूत्रों ने कहा कि मनोहर ने यूएई में शृंखला नहीं खेलने के कारणों को बताया और साथ ही स्पष्ट किया कि पीसीबी प्रमुख मीडिया में गैरजरूरी बयान देना बंद कर दें।

सूत्र ने कहा, मनोहर ने स्पष्ट किया कि दोनों बोर्ड के बीच गोपनीय बातचीत मीडिया में सार्वजनिक किए जाने से दोनों देशों के क्रिकेट रिश्ते भी प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि मनोहर और शहरयार ने इस पर सहमति जताई है कि जब तक उन्हें अपनी सरकार से मंजूरी नहीं मिल जाती है, तब तक वे दोनों देशों के बीच भविष्य की सीरीज को लेकर कोई खुलासा नहीं करेंगे।

सूत्र ने कहा, यही वजह थी कि शहरयार ने भारतीय बोर्ड के प्रमुख के साथ अपनी बैठक के बारे में विस्तार से बताने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा कि श्रीलंका और इंग्लैंड को भारत-पाक मैचों के लिए स्थल के रूप में चयन करने का एक कारण यह भी था कि पीसीबी प्रसारण करार से अधिक से अधिक राजस्व हासिल कर सके।
भारत और पाकिस्तान के बीच 2007 से टैस्ट मैच नहीं खेले गए हैं।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सदन की कार्यवाही में आप की विधायक नहीं होंगी शामिल
2 सहमति की सूरत
3 गहराता संकट
ये पढ़ा क्या...
X