BCCI ने 2 टी20 मैच की कीमत पर बचाया मैनचेस्टर टेस्ट, जय शाह ने बताया- कैसे ओल्ड ट्रैफर्ड मैच हारने से बची टीम इंडिया

बीसीसीआई सचिव ने यह भी कहा कि ईसीबी द्वारा आईसीसी की विवाद समाधान समिति (डीआरसी) के सामने ले जाने की ऐसी खबरों से अनजान थे, जिनमें रद्द किए गए टेस्ट का नतीजा इंग्लैंड के पक्ष में करने की मांग की गई थी। हालांकि, शाह ने साफ किया कि अतिरिक्त मैच तभी खेले जाएंगे, जब ऐसी कोई मांग नहीं होगी।

India vs England BCCI secretary Jay Shah
भारतीय खेमे में कोविड-19 पॉजिटिव मामले में सामने आने के बाद विराट कोहली एंड कंपनी को आशंका थी कि टीम के अन्य सदस्यों में संक्रमण फैल सकता है। इसके बाद मैनचेस्टर टेस्ट रद्द कर दिया गया था।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने दो टी20 मैच ज्यादा खेलने की शर्त मानकर टीम इंडिया को मैनचेस्टर टेस्ट में हार से बचाया। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने सोमवार यानी 13 सितंबर 2021 को यह राज उजागर किया। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई ने इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) को दो अतिरिक्त टी20 मैच खेलने का प्रस्ताव दिया, जिसके परिणामस्वरूप मैनचेस्टर टेस्ट इंग्लैंड के पक्ष में जाने के बजाय रद्द हो गया।

बता दें कि 10 सितंबर को ईसीबी ने पहले बयान जारी कर कहा था कि टीम इंडिया ने ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर उतरने से मना कर दिया, जिसके परिणामस्वरूप उसने मैनचेस्टर टेस्ट गंवा दिया। हालांकि, बाद में उसने बयान में संशोधन किया और मैच को रद्द बताया। यदि टीम इंडिया मैनचेस्ट टेस्ट गंवा देती तो वह इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने का मौका गंवा देती। अब मैनचेस्टर टेस्ट रद्द होने के बाद टीम इंडिया अभी इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट की सीरीज 2-1 से आगे है।

जय शाह ने को क्रिकबज को बताया, ‘बीसीसीआई इंग्लैंड के खिलाफ दो अतिरिक्त टी20 मैच खेलने के लिए सहमत हो गया है, ताकि ईसीबी ओल्ड ट्रैफर्ड टेस्ट के रद्द होने से हुए नुकसान की भरपाई कर सके। बशर्ते टीम इंडिया को मैनचेस्टर टेस्ट गंवाने देने की मांग नहीं होनी चाहिए।’

जय शाह ने बताया, ‘यह सही है कि जब हम अगले साल जुलाई में इंग्लैंड का दौरा करेंगे (केवल सफेद गेंद के खेल के लिए) तब हमने 2 अतिरिक्त टी20 इंटरनेशनल खेलने की पेशकश की है। इसका मतलब है कि इंग्लैंड के खिलाफ अब तीन टी20 इंटरनेशनल के बजाय, पांच टी20 इंटरनेशनल मैच खेलेंगे।’

जय शाह ने कहा, ‘हमने एक टेस्ट मैच खेलने का भी विकल्प खुला रखा है। अब यह उन पर निर्भर है कि वे किसी एक प्रस्ताव को चुनें।’ शाह ने साथ ही यह भी पुष्टि की कि पुनर्निर्धारित टेस्ट का प्रस्ताव अब भी कायम है।

बीसीसीआई सचिव ने यह भी कहा कि वह ईसीबी द्वारा आईसीसी की विवाद समाधान समिति (डीआरसी) के समक्ष उस प्रस्ताव को ले जाने की खबरों से अनजान थे, जिनमें रद्द किए गए टेस्ट का नतीजा इंग्लैंड के पक्ष में करने की मांग की गई थी। हालांकि, शाह ने साफ किया कि अतिरिक्त मैच तभी खेले जाएंगे, जब ऐसी कोई मांग नहीं होगी।

इस बीच, जय शाह ने विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच अंतरराष्ट्रीय कप्तानी को विभाजित करने के किसी भी कदम की जानकारी से इनकार किया। शाह ने अपने सहयोगी अरुण सिंह धूमल की टिप्पणियों से सहमत जताई। उन्होंने कहा, ‘ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है। टीम इंडिया का नेतृत्व विराट कर रहे हैं और हम उनका समर्थन कर रहे हैं।’

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X