ताज़ा खबर
 

ताजा नीलामी, टीम की नयी बोलियों और विघटन पर विचार विमर्श करेगा बीसीसीआई

उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त जस्टिस आर एम लोढ़ा समिति द्वारा चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स पर आईपीएल में दो साल का प्रतिबंध लगाये जाने और उनके कलंकित अधिकारियों गुरुनाथ मयप्पन तथा राज कुंद्रा पर आजीवन प्रतिबंध के मद्देनजर भारतीय क्रिकेट बोर्ड के आला अधिकारी आज हरकत में आ गए। आईपीएल संचालन परिषद के सदस्य […]

Author July 14, 2015 17:49 pm

उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त जस्टिस आर एम लोढ़ा समिति द्वारा चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स पर आईपीएल में दो साल का प्रतिबंध लगाये जाने और उनके कलंकित अधिकारियों गुरुनाथ मयप्पन तथा राज कुंद्रा पर आजीवन प्रतिबंध के मद्देनजर भारतीय क्रिकेट बोर्ड के आला अधिकारी आज हरकत में आ गए।

आईपीएल संचालन परिषद के सदस्य जल्दी ही इस मसले पर विचार विमर्श करेंगे। परिषद के सदस्य और बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने प्रेस ट्रस्ट को बताया,‘‘हम जल्दी ही इस फैसले पर औपचारिक बातचीत करेंगे। जल्दी ही आपात बैठक बुलाई जायेगी जिसमें सदस्यों को हालात की जानकारी दी जायेगी और भावी कार्रवाई की दिशा तय की जायेगी। हमारी कानूनी टीम फैसले का विस्तार से अध्ययन करेगी।’’

वरिष्ठ अधिकारियों के बीच बातचीत में तीन मसले सामने आये हैं कि क्या नयी कंपनियों को दो खाली स्थानों के लिये बोलियां लगाने की अनुमति दी जाये, क्या सारे खिलाड़ी या सिर्फ चेन्नई और राजस्थान के खिलाड़ियों की नीलामी होगी और सीएसके को उसकी मूल कंपनी इंडिया सीमेंट्स से विघटित करने का मसला।

एक अन्य सदस्य ने कहा,‘‘परिषद की पिछली बैठक में हमने सीएसके के विघटन और अंशधारिता के आकलन का मसला कार्यसमिति को सौंप दिया था जो कानूनी सलाहकारों से राय लेगी । हमें उसका इंतजार करना होगा। फिलहाल सीएसके और रॉयल्स के मालिक अपनी टीमें नये मालिकों को बेचना चाहेंगी लेकिन कुछ समस्यायें हैं।’’

सदस्य ने कहा,‘‘सीएसके और रायल्स जिस समय भी नये मालिकों को बेच दी जायेंगी, मौजूदा कानूनी उत्तरदायित्व नये मालिक का होगा। दोनों टीमों की साख गिर चुकी है। इन हालात में क्या उन्हें बेचा जा सकता है या नये खरीदार की दिलचस्पी होगी।’’

उन्होंने कहा,‘‘लोढा समिति ने कहा है कि बीसीसीआई को इस पर गौर करना होगा। हम काफी सतर्क हैं और कानूनी प्रभावों को भी ध्यान में रखेंगे।’’

सबसे अहम मसला यह है कि क्या बीसीसीआई इसे आठ टीमों की लीग बनाने के लिये नयी बोलियां आमंत्रित करता है लेकिन फिर खिलाड़ियों की नीलामी का मसला इससे जुड़ा है।

उन्होंने कहा,‘‘इस मामले में दो विकल्प है। बीसीसीआई दो नयी आईपीएल टीमों की ताजा नीलामी के लिये निविदायें बुलाये। दोनों टीमों के 45 खिलाड़ियों के लिये लघु नीलामी आयोजित की जा सकती है जिसमें मौजूदा खिलाड़ियों में से दो नयी टीमें बनाई जा सकती है।’’

सदस्य ने कहा,‘‘ऐसे में नये मालिक चुनिंदा पूल में से ही खिलाड़ियों को लेने के खिलाफ होंगे। ऐसे में यह तय करना होगा कि क्या नये सिरे से सभी खिलाड़ियों के लिये नीलामी का आयोजन किया जाये।’’

सीएसके और रॉयल्स से प्रतिक्रिया के लिये संपर्क नहीं हो सका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App