ताज़ा खबर
 

हिंदू समारोह में शामिल होने पर क्रिकेटर शाकिब को हत्या की धमकी, सरकार ने दी सुरक्षा

बांग्लादेशी ऑलराउंडर को जान से मारने की धमकी देते हुए मोहसिन नाम के 25 साल के एक शख्स ने फेसबुक पर एक वीडियो डाला था। मोहसिन ने शाकिब के काली पूजा में शामिल होने से आपत्ति जताई थी।

बांग्लादेश सरकार ने शाकिब अल हसन को सुरक्षा उपलब्ध कराई है। (file)

बांग्लादेश क्रिकेट टीम के दिग्गज ऑलराउंडर शाकिब अल हसन को कुछ दिन पहले सोशल मीडिया में एक शख्स ने जान से मारने की धमकी दी थी। जिसके बाद बांग्लादेश सरकार ने उन्हें सुरक्षा उपलब्ध कराई है। शकीब हालही में कोलकाता में काली पूजा के एक पंडाल का उद्घाटन करने के लिए गए थे। जिसके बाद उन्हें जान से मारने की धमकी मिल रही थी।

बांग्लादेशी ऑलराउंडर को जान से मारने की धमकी देते हुए मोहसिन नाम के 25 साल के एक शख्स ने फेसबुक पर एक वीडियो डाला था। मोहसिन ने शाकिब के काली पूजा में शामिल होने से आपत्ति जताई थी। हालांकि शाकिब ने इस मामले में धमकी मांग ली थी फिर भी इसकी गंभीरता को देखते हुए उन्हें सुरक्षा दी गई है।शाकिब ने माफी मांगते हुए कहा था कि वह सिर्फ थोड़े समय के लिए कार्यक्रम से जुड़े थे और उन्होंने पंडाल का उद्घाटन नहीं किया था।

शाकिब ने कहा, “तो फिर, शायद मुझे उस जगह पर नहीं जाना चाहिए था और अगर ऐसा है तो आप मेरे खिलाफ हैं और इसके लिए मुझे बहुत खेद है। मैं यह सुनिश्चित करने की कोशिश करूंगा कि ऐसा फिर कभी ना हो।” पूर्व कप्तान ने कहा, ” सोशल मीडिया पर ऐसी खबरें है कि मैं वहां समारोह का उद्घाटन करने गया था। लेकिन मैं ऐसा करने के लिए वहां नहीं गया था और ना ही मैंने वहां ऐसा कुछ किया था। आप आसानी से इसे चेक कर सकते हैं। एक जागरूक मुस्लिम होने के नाते मैं ऐसा कभी नहीं करूंगा।”

इस मामले से सामने आने के बाद वीडियो डिलीट कर दिया गया और युवक के खिलाफ कार्रवाई की थी। युवक ने वीडियो में कहा था कि अगर शाकिब ने माफी नहीं मांगी तो वह ढाका जाकर भी उनकी हत्या करने के नहीं चूकेंगे। बुधवार 18 नवंबर को रैपिड एक्शन फोर्स ने धमकी देने वाले मोहसिन को रोनोशी गांव से गिरफ्तार किया गया।

बता दें शाकिब अल हसन को कोलकाता में मूर्ति के सामने पूजा करते हुए देखा गया था। पूजा के बाद शाकिब बांग्लादेश वापस लौट गए थे। इस मुद्दे पर बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनोट ने भी ट्वीट किया है। कंगना ने लिखा “ऐसे लोग मंदिरों से इतना क्यों डरते हैं। हम तो सारी उम्र मस्जिद में बिता दें, फिर भी राम नाम कोई दिल से नहीं निकाल सकता। ख़ुद की इबादत पर भरोसा नहीं या अपना ही हिंदू अतीत तुम्हें मंदिरों की ओर आकर्षित करता है? पूछो ख़ुद से। “

Next Stories
1 India vs Australia: भारतीय टीम के लिए खुशखबरी! ‘अनफिट’ रोहित शर्मा पहुंचे NCA, राहुल द्रविड़ के साथ शुरू की ट्रेनिंग
2 श्रीलंका के पूर्व खिलाड़ी और कोच नुवान जोयसा आईसीसी की जांच में दोषी करार, जानिए क्या है मामला
3 ‘रन नहीं बनते थे तो गाता था भजन, रन बनने पर गाने लगता था शीला की जवानी’, कपिल शर्मा के शो पर सहवाग ने खोला था राज
ये पढ़ा क्या?
X