बजरंग पूनिया ने WWE को फेक बताया, सलमान खान की सुल्तान मूवी को भी बताया दिखावटी; देखें Video

टोक्यो ओलंपिक के ब्रॉन्ज मेडलिस्ट भारतीय रेसलर बजरंग पूनिया ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए WWE को फेक बताया है। इसके अलावा उन्होंने सलमान खान की सुल्तान फिल्म का भी जिक्र करते हुए उसे सिर्फ मसाले के लिए दिखावा बताया है।

bajrang-punia-tokyo-olympic-bronze-medalist-calls-wwe-fake-also-salman-khan-starrer-sultan-as-only-showoff
बजरंग पूनिया ने WWE को फेक बताते हुए सलमान खान की फिल्म सुल्तान को लेकर भी बयान दिया है (Source: Indian Express and Twitter)

भारत के स्टार रेसलर और टोक्यो ओलंपिक के ब्रॉन्ज मेडलिस्ट बजरंग पूनिया ने WWE को फेक बताया है। पूनिया ने इंडियन एक्सप्रेस के प्रोग्राम एक्सप्रेस ई-अड्डा में बात करते हुए बोला है कि WWE नेचुरल रेसलिंग से बिल्कुल अलग है। साथ ही उन्होंने सलमान खान की सुल्तान मूवी में दिखाई गई रेसलिंग का भी जिक्र किया है और उसे दिखावटी बताया है।

इंडियन एक्सप्रेस के स्पोर्ट्स एडिटर संदीप द्विवेदी ने भारतीय रेसलर से फिल्मी रेसलिंग, WWE और नेचुरल रेसलिंग में अंतर पर सवाल किया। जिसके जवाब में पूनिया ने कहा कि, ‘WWE फेक होती है, वो जो करते हैं वो हम नहीं कर पाएंगे। उसमें ज्यादा दिखावा है उसमें उसी से पैसा आता है।’

उन्होंने आगे कहा कि,’सुल्तान मूवी में सलमान खान कभी रेसलर बन जाते हैं कभी बॉक्सर बन जाते हैं। कुछ भी होता है। मूवी में सिर्फ मसाला देना होता और सब दिखावा होता है। इसलिए फिल्मों से हमारी रेसलिंग काफी अलग है। हमारी रेसलिंग में तकनीक ज्यादा होती हैं। वो सब फिल्मों में ही अच्छा लगता है कि किसी को भी कहीं से उठाकर फेंक दिया या कुछ भी बन गए। हमारी नेचुरअल रेसलिंग इससे काफी अलग होती है।’

वहीं इस दौरान बजरंग ने ये भी कहा था कि इंजरी के बावजूद वे मैट पर उतरे। उन्होंने कहा कि,’उनका प्रमुख लक्ष्य था मेडल जीतना। अगर मेडल नहीं जीता तो सर्जरी का क्या फायदा। अगर मेडल जीत लिया तो पैर तुड़वाने को भी मैं राजी हूं सर्जरी ओलंपिक मेडल जीतने के बाद करवा लूंगा।’

मेडल जीतने के लिए किया त्याग

बजरंग पूनिया ने ये भी बताया कि, ‘मैंने ठान लिया था कि पहले ओलंपिक मेडल जीतना है और फिर अपनी पसंद के काम करने हैं। प्रैक्टिस के अलावा कुछ नहीं। कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है। मैं अभी भी सिनेमा देखने थिएटर नहीं जाउंगा। 2024 के बाद मैं कोशिश करूंगा कि जा सकूं।’

गौरतलब है कि 2024 में पेरिस ओलंपिक खेलों का आयोजन होगा। टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों ने ऐतिहासिक प्रदर्शन किया है। हम आशा करते हैं कि पेरिस में भी बजरंग पूनिया सहित सभी भारतीय खिलाड़ी मेडल के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें और पूनिया ने जो त्याग किए हैं उन्हें उसका फल मिले।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट