बाबा रामदेव लगाते हैं 500 डिप्‍स, अरनब के स्‍टूडियो में ही देने लगे थे डेमो, पंजा लड़ा कर कहा- आपमें ताकत तो है

रामदेव ने कहा, ‘इसका मतलब है कि हमारे अरनब भाई बड़े स्ट्रांग हैं, पंगा मत लेना।’ अरनब गोस्वामी ने हाथ जोड़कर कहा, ‘स्वामी जी बहुत मजा आया। मैं चाहता हूं कि ऐसी बात चलती रहे।’

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: September 3, 2020 3:25 PM

बाबा रामदेव रोजाना 500 डिप्‍स लगाते हैं। वह यह बात कई बार विभिन्न मंचों पर बता चके हैं। उन्होंने रिपब्लिक भारत के सेट पर न्यूज चैनल के एडिटर इन चीफ अरनब गोस्वामी से भी यह बात कही थी। साथ ही उन्होंने इसका डेमो भी दिया था। उन्होंने अरनब गोस्वामी से भी डिप्‍स लगाने का आग्रह किया था। लेकिन अरनब एक डिप्‍स लगाने के बाद ही उठ खड़े हए थे। हालांकि, अरनब डिप्‍स लगाने में भले ही कमजोर साबित हए हों, लेकिन पंजा लड़ाने में उन्होंने स्वामी रामदेव को कड़ी टक्कर दी थी।

दरअसल, रामदेव को डिप्‍स का डेमो देते देखकर अरनब बिल्कुल आश्चर्यचकित थे। उन्होंने कहा कि यह आपसे सीखना पड़ेगा। डिप्स का डेमो देने के बाद रामदेव ने अरनब को पंजा लड़ाने का ऑफर दिया। वह अरनब को एंकर टेबल पर ले गए और पंजा लड़ाने की बात कही। पहले अरनब ने मना किया। उन्होंने कहा, ‘मैं नहीं करूंगा आपके साथ।’ लेकिन ज्यादा जोर देने पर अरनब तैयार हो गए। इसके बाद दोनों पंजा लड़ाने लगे। अब आश्चर्य करने की बारी रामदेव की थी। रामदेव अरनब के हाथ को झुका नहीं पा रहे थे।

रामदेव ने अरनब से कहा, ‘अरे आप में ताकत तो है। ताकत तो अच्छी है भाई।’ इस बीच अरनब को लगा कि रामदेव टेबल का सहारा लेकर उनके हाथ को झुकाने की कोशिश कर रहे हैं तो उन्होंने कहा कि अब आप चीटिंग कर रहे हैं। यह सुनते ही रामदेव जोर-जोर से हंसने लगे। इसके बाद रामदेव ने कहा, ‘चलो बराबर का मकाबला हो गया।’ रामदेव ने अरनब को गले लगा लिया। उन्होंने कहा, ‘इसका मतलब है कि हमारे अरनब भाई बड़े स्ट्रांग हैं, पंगा मत लेना।’ रामदेव ने कहा, ‘तो आपने पूरा अखाड़ा भी बना दिया।’

मोहम्मद शमी को प्यार में मिला था धोखा, हसीन जहां ने छुपाए थे कई राज; अलग होने के बाद चमका भारतीय क्रिकेटर का करियर

इसके बाद रामदेव ने कहा, ‘एक बात कहूंगा सब लोगों से। सुबह-सुबह योग करें और दिनभर कर्म योग करें। अर्थात हमारा कर्म ही हमारा धर्म है। जो व्यक्ति जो भी काम कर रहा है, खेती में, बिजनेस में, व्यापार में, राजनीति में, हेल्थ में, एजकेशन में, मीडिया में, धर्म में, अध्यात्म में, जहां भी आप हैं कर्म करो। कर्म से बड़ा कोई धर्म नहीं है। कर्म से बड़ा जिंदगी का कोई मकसद भी नहीं है। चींटी से लेकर हाथी तक, पूरी सृष्टि कर्म कर रही है। कर्म करो बस।’ इसके बाद अरनब गोस्वामी ने हाथ जोड़कर कहा, ‘स्वामी जी बहुत मजा आया। कहीं से शुरू किया, कहीं खत्म की। मगर मैं चाहता हूं कि ऐसी बात चलती रहे और फिर से मुलाकात हो।’

Next Stories
1 ‘श्रीनिवासन मेरे पिता जैसे, बाप को है बेटे को डांटने का हक,’ सुरेश रैना ने दिए IPL 2020 के लिए यूएई जाने के संकेत
2 सुशांत मामले में ड्रग्स को लेकर बिलियर्ड्स प्लेयर से पूछताछ, रिया चक्रवर्ती से ‘डूबीज’ को लेकर चैट आई सामने
3 भुवनेश्वर कुमार ने नुपूर नागर को मनाने के लिए क्रिकेट को बनाया था हथियार, मैसेज के जरिए किया था प्रपोज
आज का राशिफल
X