ताज़ा खबर
 

वॉर्नर ने मीडिया के सामने कहा कुछ ऐसा कि एयरपोर्ट पर ही रोने लगीं उनकी वाइफ, देखें VIDEO

केपटाउन टेस्ट में गेंद से छेड़खानी के विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने कप्तान स्टीव स्मिथ, वॉर्नर को 12 महीने के लिए प्रतिबंधित किया, जबकि सलामी बल्लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगाया है।

डेविड वॉर्नर। (Photo Courtesy: Twitter)

बॉल टैम्परिंग कांड के मास्टरमाइंड डेविड वॉर्नर अपने परिवार के साथ सिडनी एयरपोर्ट से बाहर निकलते देखे गए। जब पत्रकारों ने उनसे इस मामले पर बात करनी चाही, तो वॉर्नर ने कहा, “मेरी पत्नी और बच्चों के लिए ये बहुत मुश्किल और भावुक पल है। मैं अगले कुछ दिनों में आप सबसे बात करूंगा।” वॉर्नर के साथ उस वक्त उनके दोनों बच्चे और पत्नी कैंडिस थीं। वॉर्नर जब मीडिया से बात कर रहे थे, उस वक्त उनकी पत्नी अपने आंसू नहीं रोक सकीं। कैंडिस बेहद भावुक नजर आ रही थीं और साथ ही वॉर्नर को सांत्वना भी दे रही थीं।

डेविड वॉर्नर ने गुरुवार को ट्विटर पर एक बयान जारी कर माफी मांगते हुए कहा था, “मैं अपने किए के लिए माफी मांगता हूं और उसकी जिम्मेदारी लेता हूं। खेल और प्रशंसकों को जो चोट पहुंची है, मैं उसे समझता हूं। यह उस खेल पर दाग है, जिसे हम सभी प्यार करते हैं। मैं भी जब बच्चा था, तब से इस खेल को प्यार करता हूं। मुझे थोड़ा आराम करने और परिवार, दोस्तों, तथा भारोसेमंद लोगों के साथ समय बिताने की जरूरत है। आप कुछ दिनों में इस बारे में सुनेंगे।”

केपटाउन टेस्ट में गेंद से छेड़खानी विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने कप्तान स्टीव स्मिथ और वॉर्नर को 12 महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया, जबकि सलामी बल्लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगाया गया है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में बैनक्रॉफ्ट को गेंद से छेड़खानी करते हुए कैमरे में कैद किया गया था। बाद में स्मिथ और बैनक्रॉफ्ट ने माना था कि यह टीम की योजना थी। इस बारे में वॉर्नर को भी पता था।

David Warner with Candice Warner

सीए ने वॉर्नर को ऑस्ट्रेलिया में आजीवन किसी भी टीम की कप्तानी करने से प्रतिबंधित कर दिया है। सीए के इस फैसले के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी स्मिथ और वॉर्नर को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इस सीजन में हिस्सा लेने से प्रतिबंधित कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App