ताज़ा खबर
 

एशियन चैम्पियनशिप: भारतीय वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने क्लीन एंड जर्क में बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, कटाया टोक्यो ओलंपिक का टिकट

भारत की 26 साल की साईखोम मीराबाई चानू ने स्नैच में 86 किग्रा का भार उठाने के बाद क्लीन एवं जर्क में विश्व रिकॉर्ड कायम करते हुए 119 किलोग्राम का भार उठाया। वह कुल 205 किग्रा के साथ तीसरे स्थान पर रहीं।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: April 18, 2021 2:06 AM
Saikhom Mirabai Chanu Bronze Clean Jerk World Recordपूर्व विश्व चैम्पियन वेटलिफ्टर साईखोम मीराबाई चानू ने क्लीन एवं जर्क में नया विश्व रिकॉर्ड कायम किया और टोक्यो ओलंपिक का टिकट पक्का किया। (सोर्स- ट्विटर/स्पोर्ट्स इंडिया)

पूर्व विश्व चैम्पियन मीराबाई चानू ने भारोत्तोलन एरीना में शानदार वापसी करते हुए क्लीन एवं जर्क में नया विश्व रिकॉर्ड कायम करते हुए शनिवार को एशियाई चैम्पियनशिप में कांस्य पदक हासिल किया। मीराबाई ने इस दौरान अपने राष्ट्रीय रिकॉर्ड में सुधार करने के साथ टोक्यो ओलंपिक का टिकट भी पक्का किया क्योंकि वह छह क्वालिफाइंग प्रतियोगिता में हिस्सा ले चुकी हैं।

भारत की 26 साल की इस खिलाड़ी ने स्नैच में 86 किग्रा का भार उठाने के बाद क्लीन एवं जर्क में विश्व रिकॉर्ड कायम करते हुए 119 किलोग्राम का भार उठाया। वह कुल 205 किग्रा के साथ तीसरे स्थान पर रहीं। इससे पहले क्लीन एवं जर्क मे विश्व रिकार्ड 118 किग्रा का था। चानू का 49 किग्रा में व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कुल 203 किग्रा (88 किग्रा और 115 किग्रा) था, जो उन्होंने पिछले साल फरवरी में राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में बनाया था। स्वर्ण पदक चीन की होऊ जिहीहुई ने जीता, जिन्होंने 213 किग्रा (96 किग्रा और 117 किग्रा) के कुल वजन से स्नैच में नया विश्व रिकार्ड बनाया।

होऊ जिहीहुई की हमवतन जियांग हुईहुआ ने गोल्ड स्तर की ओलंपिक क्वालिफायर प्रतियोगिता में 207 किग्रा (89 किग्रा और 118 किग्रा) का वजन उठाकर रजत पदक जीता। हालांकि, चानू की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी।

वह पहले दो स्नैच प्रयासों में 85 किग्रा का वजन उठाने में असफल रहीं। मणिपुर की इस भारोत्तोलक ने फिर अपने अंतिम प्रयास में 86 किग्रा का वजन उठाया। हालांकि वह जिहीहुई (96 किग्रा), हुईहुआ (89 किग्रा) और इंडोनेशिया की ऐसाह विंउी कैंटिंका (87 किग्रा) के बाद चौथे स्थान पर रहीं।

चानू ने अपने क्लीन एवं जर्क की शुरुआत 113 किग्रा से की। इसके बाद उन्होंने 117 किग्रा का वजन उठाकर अपना व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ किया। भारतीय भारोत्तोलक ने फिर 119 किग्रा का वजन उठाकर अपने प्रदर्शन में सुधार किया जो उनके शरीर के वजन से दोगुने से ज्यादा है।

मीराबाई का था खुद से मुकाबला

ताशकंद में चल रही एशियाई चैम्पियनशिप में बतौर रेफरी मौजूद इंडियन वेटलिफ्टिंग संघ के महासचिव सहदेव यादव को मीराबाई से ऐसे कीर्तिमान की उम्मीद नहीं थी। उनके मुताबिक, मीरा का प्रदर्शन हैरतअंगेज है। विजय ने शुक्रवार को ही कहा था कि मीरा खुद से मुकाबला करेंगी। वह चीनियों के संघर्ष में नहीं फंसेंगी। हालांकि शुरुआत उम्मीद के मुताबिक नहीं रही।

Next Stories
1 MI vs SRH: कीरोन पोलार्ड ने जड़ा IPL 2021 का सबसे लंबा छक्का, ग्लेन मैक्सवेल को छोड़ा पीछे; देखें वीडियो
2 MI vs SRH: रोहित शर्मा इस मामले में बने नंबर-1 भारतीय, तोड़ दिया महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड
3 सनराइजर्स हैदराबाद का मध्यक्रम फिर फेल, डेविड वॉर्नर की टीम ने लगाई हार की हैट्रिक; मुंबई इंडियंस की दूसरी जीत
यह पढ़ा क्या?
X