scorecardresearch

टीवी पर लोग सुझाव देते हैं,पर धोनी को छोड़ किसी ने संपर्क नहीं किया; फॉर्म वापसी के बाद आलोचकों को विराट कोहली ने ऐसे दिया जवाब

विराट कोहली हाल ही में क्रिकेट से एक महीने का ब्रेक लिया था। बाद में उन्होंने स्वीकार किया था कि वह मानसिक रूप से कमजोर महसूस कर रहे थे। अब पाकिस्तान के खिलाफ सुपर-4 के मैच के बाद उन्होंने पिछले छह महीनों के दबावों, आलोचनाओं और सुझावों से निपटने के बारे में खुलकर बात की।

टीवी पर लोग सुझाव देते हैं,पर धोनी को छोड़ किसी ने संपर्क नहीं किया; फॉर्म वापसी के बाद आलोचकों को विराट कोहली ने ऐसे दिया जवाब
एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ शॉट खेलते विराट कोहली। (फोटो- बीसीसीआई ट्विटर)

Virat Kohli reply to his Critics: एशिया कप 2022 में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने लगातार दो मैचों में दो अर्धशतक जड़कर फॉर्म में वापसी की है। बल्ले से रन न निकलने के कारण वह पिछले कुछ समय से आलोचकों के निशाने पर थे। पिछले साल के टी 20 विश्व कप के बाद कोहली ने टी 20 कप्तानी से हटने का फैसला किया। रोहित शर्मा को तब सफेद गेंद के दोनों प्रारूपों में नेतृत्व सौंपा गया था। इसके बाद उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर 2-1 से हार के बाद टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी भी छोड़ दी।

कोहली हाल ही में क्रिकेट से एक महीने का ब्रेक लिया था। बाद में उन्होंने स्वीकार किया था कि वह मानसिक रूप से कमजोर महसूस कर रहे थे। अब पाकिस्तान के खिलाफ सुपर-4 के मैच के बाद उन्होंने पिछले छह महीनों के दबावों, आलोचनाओं और सुझावों से निपटने के बारे में खुलकर बात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि उन्हें टीवी पर कई लोग सुझाव देते हैं, लेकिन टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को छोड़कर किसी ने उनसे व्यक्तिगत तौर पर संपर्क नहीं किया।

पाकिस्तान के खिलाफ मैच के बाद विराट ने कहा, “जब मैंने टेस्ट कप्तानी छोड़ी तो मुझे केवल एमएस धोनी का संदेश मिला और किसी का नहीं। काफी लोग टीवी पर मुझे सुझाव देते हैं। बहुत से लोगों के पास मेरा नंबर है, लेकिन केवल उन्होंने फोन किया था। कुछ लोगों के साथ सच्चा जुड़ाव होता है और इसमें सुरक्षा का भाव होता है। अगर आप मुझे सुझाव देना चाहते हैं, तो मुझे व्यक्तिगत तौर पर दें। जब आप किसी का सम्मान करते हैं और वह वास्तविक है, तो ऐसा लगता है क्योंकि दोनों तरफ सुरक्षा की भावना है। न तो उन्हें मुझसे कुछ चाहिए और न ही मुझे उनसे कुछ चाहिए। मैं उनसे कभी असुरक्षित नहीं था और न ही वह थे।”

पूर्व क्रिकेटरों पर कोहली का बयान

विराट कोहली एशिया कप से पहले खराब दौर से गुजर रहे थे और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से एक ब्रेक लिया। उनका कहना है कि कठिन दौर ने भी उन्हें लोगों को समझने में मदद की। उन्होंने कहा, “मैं अपना जीवन ईमानदारी से जीता हूं और मैं इन चीजों को देख सकता हूं। जब आप इतने लंबे समय तक ईमानदारी के साथ खेलते हैं, तो भगवान आपको पुरस्कृत करते हैं। जब तक मैं खेल रहा हूं, मैं इसी तरह खेलता रहूंगा।”

पूर्व क्रिकेटरों और विशेषज्ञों द्वारा उनके फॉर्म प रराय देने पर भारत के पूर्व कप्तान ने कहा, “मैं सिर्फ यह कहना चाहता हूं अगर मुझे किसी को उनके खेल के बारे में बताना है, तो मैं व्यक्तिगत रूप से ऐसा करूंगा। अगर मुझे किसी की मदद करनी है तो भी मैं व्यक्तिगत तौर पर करता हूं।अगर आप पूरी दुनिया के सामने कोई सुझाव दे रहे हैं, तो यह मेरे लिए बहुत मायने नहीं रखता। अगर आपको मुझे कुछ सुझाव देना है तो आप मुझसे आमने-सामने बात कर सकते हैं। आप वास्तव में चाहते हैं कि मैं अच्छा करूं। मैं अपना जीवन बहुत ईमानदारी से व्यतीत करता हूं।मैं यह नहीं कह रहा हूं कि इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। जब तक मैं खेलूंगा, मैं अपना खेल ईमानदारी से खेलूंगा।”

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 05-09-2022 at 11:10:06 am
अपडेट