ताज़ा खबर
 

फुल टाइम गेंदबाज नहीं बनना चाहते केदार जाधव, इस बात का है डर

पैर की मांसपेशियों में खिचाव से उबरने के बाद राष्ट्रीय टीम में वापसी कर रहे जाधव ने बुधवार को पाकिस्तान के खिलाफ एशिया कप मुकाबले में तीन विकेट चटकाए।

Author September 20, 2018 5:09 PM
स्पिनर केदार जाधव

कामचलाऊ स्पिनर केदार जाधव में अहम मौकों पर विकेट चटकाने की क्षमता है और इस भारतीय स्पिनर ने अपनी इस सफलता का श्रेय नेट पर अधिक गेंदबाजी नहीं करने को दिया। पैर की मांसपेशियों में खिचाव से उबरने के बाद राष्ट्रीय टीम में वापसी कर रहे जाधव ने बुधवार को पाकिस्तान के खिलाफ एशिया कप मुकाबले में तीन विकेट चटकाए।
भारत की ओर से 42 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले जाधव ने कहा, ‘‘मैं नेट्स पर अधिक गेंदबाजी नहीं करता। ईमानदारी से कहूं तो मैच से पहले अभ्यास सत्र में मैं कुछ ही ओवर फेंकता हूं। मुझे लगता है कि अगर नेट सत्र में मैं अपनी गेंदबाजी पर काम करने का प्रयास करता हूं तो इसमें जो भी कुछ अलग चीज है वह खत्म हो सकती है। इसलिए मैं अपनी सीमा में रहता हूं।’’ जाधव ने साथ ही याद किया कि किस तरह 2016 में जब पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्हें गेंद थमाई तो उनके अंदर का गेंदबाज सामने आया।

उन्होंने कहा, ‘‘धोनी भाई ने जब से न्यूजीलैंड के खिलाफ उस मैच में मुझे गेंदबाजी के लिए कहा तब से मेरा जीवन पूरी तरह से बदल गया।’’ विकेट हासिल करने की क्षमता का कारण पूछने पर जाधव ने कहा, ‘‘हम वह करने का प्रयास करते हैं जिसकी हमारे से उम्मीद की जा रही है- सही विभाग में गेंदबाजी करना, जब क्षेत्ररक्षक सर्कल में हो तो दबाव बनाए रखना। अगर हम प्रक्रिया पर कायम रहें तो नतीजे अपने आप मिलते हैं और मुझे लगता है कि यही हो रहा है।’’ जाधव ने कहा कि अप्रैल में सर्जरी के बाद फिटनेस प्रक्रिया में बदलाव से उन्हें बेहतर क्रिकेटर बनने में मदद मिली।

इस बल्लेबाज ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि सर्जरी के बाद मेरी फिटनेस में सुधार हुआ और पिछले चार महीने में मैंने ट्रेंिनग और फिटनेस के बारे में काफी सीखा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इससे पहले मैं जब भी रिहैबिलिटेशन करता था तो मैं खेलना शुरू कर देता था। सोचता था कि यह समस्या दोबारा नहीं आएगी। कई बार मैं अपना नियमित अभ्यास भी नहीं करता था लेकिन अब मैं चाहे जैसा भी महसूस कर रहा हूं, मैं अपने दिन की शुरुआत जिम या दौड़ के साथ ही करता हूं।

भारत को रविवार को एक बार फिर चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ खेलना है और उस संदर्भ में जाधव ने कहा, ‘‘भारत-पाकिस्तान मैच हमेशा रोमांचक होते हैं, हम जीते और अच्छा महसूस कर रहे हैं लेकिन हम प्रत्येक टीम के साथ इसी जज्बे के साथ खेलते हैं।’’ जाधव ने अर्धशतक जड़ने वाले कप्तान रोहित शर्मा की तारीफ की और पूर्व कप्तान कपिल देव के इस सुझाव को सही बताया कि नियमित कप्तान विराट कोहली की गैरमौजूदगी में उनके जैसे खिलाड़ियों के पास अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित करने का मौका है। इस बल्लेबाज ने हालांकि कहा कि निश्चित तौर पर कोहली की कमी खल रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App